कांग्रेस ने CM धामी सरकार को जमकर घेरा, इन मुद्दों पर जताया विरोध

देहरादून: कांग्रेस ने उत्तराखंड में बिगड़ती कानून व्यवस्था के मुद्दे पर विधानसभा का शीतकालीन सत्र आरम्भ होने से पहले ही विरोध व्यक्त किया। विधानसभा की सीढ़ियों पर कांग्रेसी विधायकों ने धरना देते हुए विरोध व्यक्त किया। MLA राजेंद्र भंडारी ने कहा कि सरकार निरंतर गैरसैंण की उपेक्षा कर रही है। गैरसैंण में सत्र न करा कर अपनी मंशा भी स्पष्ट कर दी है। 

उपनेता भुवन कापड़ी ने कहा की सरकार निरंतर खटीमा की उपेक्षा कर रही है। न वहां विकास कार्य हो रहे हैं। न ही वहां के लोगों की कोई सुनवाई हो रही है। लकड़ी कारोबारियों का शोषण किया जा रहा है। किसानों को परेशान किया जा रहा है। गन्ना किसानों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है। MLA तिलकराज बेहड़ ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह ठप है। किच्छा में गुंडाराज चरम पर पहुंच गया है। बदमाशों को सत्ता पक्ष की शह मिल रही है। इसीलिए वो बेखौफ होते जा रहे हैं। विरोध जताने वालों में MLA मदन बिष्ट, विक्रम नेगी, रवि बहादुर आदि उपस्थित रहे।

विधानसभा सत्र के पहले दिन कांग्रेस कानून व्यवस्था पर काम रोको प्रस्ताव लाएगी। सोमवार को नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य के कैंट रोड स्थित सरकारी आवास में कांग्रेस विधानमंडल दल की बैठक हुई। बैठक में शीतकालीन सत्र को लेकर रणनीति निर्धारित की गई। बैठक के पश्चात् नेता प्रतिपक्ष ने ‘हिन्दुस्तान’ को बताया कि राज्य में कानून व्यवस्था पूरी तरह पटरी से उतर चुकी है। अंकिता भंडारी हत्याकांड, यूएसनगर में अपराधी तत्वों का उत्पात, आए दिन लूट, महिला अपराधों के बढ़ते आंकड़ों से जनता असुरक्षित महसूस कर रही है। अंकिता हत्याकांड में वीआईपी के नाम का खुलासा नहीं किया गया है। अपराधियों को दंड दिलाने की जगह सरकार उनकी संरक्षक नजर आती है। यूकेएसएसएससी पेपर लीक,भ्रष्टाचार,महंगाई, हरिद्वार पंचायत चुनाव में अनियमितता, ट्रांसपोर्टरों की हड़ताल, आपदा प्रबंधन, किसान सहित सभी मुद्दों पर जनता जवाब चाहती है।

रामनगरी अयोध्या में लागू किया जाएगा कॉमन बिल्डिंग कोड, जानिए क्या है योगी सरकार का प्लान ?

सीएम केजरीवाल की रैली में नहीं हुआ कोई पथराव, दिल्ली CM के दावे को सूरत पुलिस ने बताया 'गलत'

'मुझे कोई जानकारी नहीं', स्वास्थ्य मंत्री के खिलाफ जमीन फर्जीवाड़े मामले पर बोले कलेक्टर

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -