ट्विटर-ट्विटर खेलने के बजाए पार्टी मंच पर अपनी बात रखें नेता, सुरजेवाला की कांग्रेस नेताओं को सलाह

ट्विटर-ट्विटर खेलने के बजाए पार्टी मंच पर अपनी बात रखें नेता, सुरजेवाला की कांग्रेस नेताओं को सलाह

नई दिल्ली: कांग्रेस के नए-पुराने नेताओं में मची आंतरिक कलह को रोकने के लिए अब पार्टी प्रवक्ता वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला मैदान में उतर आए हैं. आनन-फानन में राजस्थान से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली बुलाए गए रणदीप सुरजेवाला ने UPA सरकार घटक दलों पर सवाल उठा रहे कांग्रेसी नेताओं को नसीहत देते हुए कहा कि टि्वटर-टि्वटर खेलने की जगह पार्टी संगठन के मंच पर अपनी बात रखना अधिक उचित रहेगा.

इसके साथ ही सुरजेवाला ने मनमोहन सिंह नींत UPA सरकार की खूबियां गिनाते हुए भाजपा पर परोक्ष रूप से आरोप लगाया है कि कांग्रेस को बदनाम करने ला प्रयास किया गया है. दिल्ली में कांग्रेस द्वारा बुलाई गई प्रेस वार्ता में रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस नीत UPA सरकार के दौरान एक नहीं कई महत्वपूर्ण कार्य हुए हैं. मनमोहन सिंह सरकार के दौर में ही मनरेगा शुरू हुआ, खाद्यान्न सुरक्षा बिल आया, सूचना का अधिकार आया.

सुरजेवाला ने आगे कहा कि इसके साथ ही UPA सरकार ने GDP वृद्धि दर सबसे अधिक दी, खेती में भी अभूतपूर्ण वृद्धि दर हासिल की. इसके बाद भी कांग्रेस को बदनाम करने का प्रयास किया गया. ऐसे में जरूरी है कि सही तस्वीर को सबके सामने रखा जाए. इसके साथ ही उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री मनीष तिवारी, शशि थरूर तथा मिलिंद देवड़ा का नाम बिना लिए कहा कि टि्वटर-टि्वटर खेलने की जगह पार्टी मंच पर अपनी बात रखना बेहतर होगा.  

पेट्रोल-डीजल के दाम में नहीं हुए बदलाव, जानें क्या है आज कीमत

ब्राज़ील में कोरोना ने पकड़ी तेजी, अब तक इतनी हुई मौतें

इज़राइल के पीएम पर भड़के लोग, कर रहे विरोध प्रदर्शन