यूपी में कांग्रेस को लगा तगड़ा झटका, जानें क्या है वजह

यूपी में कांग्रेस को लगा तगड़ा झटका, जानें क्या है वजह

सोमवार को राजस्थान में भले ही कांग्रेस पर से खतरा टल गया हो, किन्तु यूपी में पार्टी को जबरदस्त झटका लगा है. कांग्रेस ने पार्टी के 2 एमएलए अदिति सिंह तथा राकेश सिंह की मेंबर शीप समाप्त करने को लेकर याचिका दायर की थी. दोनों बागी एमएलए की विधानसभा से मेंबरशीप खत्म करने की याचिका खारिज हो गई है.

यमन में फिर हुआ हवाई हमला, 10 लोगों की गई जान

विदिति हो कि सोमवार को विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित ने दोनों पक्षों की दलीलों की लंबी सुनवाई के बाद अपना निर्णय सुनाया. उन्होंने अदिति और राकेश को कांग्रेस मेंबर मानते हुए साक्ष्यों व सुप्रीम कोर्ट के निर्णय के आधार पर दलबदल कानून के दायरे में नहीं आने की बात कही. इस फैसला के बाद दोनों की एमएलए बनी रहेगी और सदन में कांग्रेस मेंबर्स के तौर पर मान्यता मिलेगी. दोनों बागी एमएलए रायबरेली जिले से संबध रखते है

सोपोर मुठभेड़ में ढेर हुए 3 आतंकी, DIG ने बताया क्या था प्लान

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कांग्रेस विधानमंडल दल नेता आराधना मिश्रा मोना ने साल 26 नवंबर 2019 को रायबरेली सदर की विधायक अदिति सिंह की सदस्यता समाप्त करने की याचिका दायर की थी. उनका कहना था कि अदिति ने पार्टी के व्हिप का उल्लंघन करते हुए साल 2 अक्टूबर 2019 को आहूत विशेष सत्र में हिस्सा लिया था. इसके अलावा पार्टी विरोधी गतिविधियों में निरंतर लिप्त रही है. विधानसभा अध्यक्ष द्वारा सुनाए निर्णय में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हवाला देते हुए माना कि व्हिप उल्लंघन अविश्वास प्रस्ताव लाने अथवा पार्टी की नीति संबंधित मामले में माना जाता है. एमएलए अदिति ने स्वयं को कांग्रेस का समर्पित कार्यकर्ता बताया है. निर्णय पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए अदिति ने ट्वीट किया, सत्य परेशान हो सकता है पराजित नहीं.

न्यू मैक्सिको में क्रैश हुआ अमेरिकी वायुसेना का F-16 फाइटर जेट

सिविल ड्रेस में अपराधी को पकड़ने पहुंची तेलंगाना पुलिस, शक में लोगों ने कर दी पिटाई

'नेपाली थे भगवान राम, भारत में मौजूद है नकली अयोध्या'