पंजाब संकट: दिल्ली में नहीं गली सिद्धू की दाल, कांग्रेस हाईकमान ने नहीं दिया मिलने का वक़्त

अमृतसर: पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश कांग्रेस के भीतर कलह थमने का नाम नहीं के रही है. कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ मोर्चा खोले हुए प्रदेश कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को एक और तगड़ा झटका लगा है. नवजोत सिंह सिद्धू बीते दिन से दिल्ली में थे और कांग्रेस आलाकमान से मुलाकात करना चाहते थे, किन्तु ऐसा संभव नहीं हो सका. 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पार्टी हाईकमान की तरफ से नवजोत सिंह सिद्धू को मुलाकात का समय नहीं दिया गया. ना ही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से नवजोत सिंह सिद्धू की मुलाकात हो पाई. ऐसे में निराश सिद्धू वापस पंजाब लौट गए हैं. पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू यहां दिल्ली में पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से मिलकर सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह को लेकर शिकायत करना चाहते थे. किन्तु ये मुलाकात संभव नहीं हो सकी, इसलिए सिद्धू को बेरंग ही वापस लौटना पड़ा. 

बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच काफी समय से तकरार जारी है. हाल ही में पंजाब के प्रभारी हरीश रावत ने पंजाब का दौरा कर नवजोत सिंह सिद्धू और उनकी टीम के साथ बैठक की थी. इस मुलाकात में हरीश रावत ने स्पष्ट कर दिया था कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ही पंजाब के सीएम होंगे और राज्य सरकार की कैबिनेट में भी कोई बदलाव नहीं होगा. हरीश रावत के दौरे से पहले नवजोत सिंह सिद्धू के गुट की तरफ से कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे की मांग की गई थी. 

'हम पाकिस्तानी और पाकिस्तान हमारा' का नारा देने वाले गिलानी का इंतकाल, PAK ने भारत को दी ये धमकी

वियतनाम में आज मनाया जा रहा है राष्ट्रीय दिवस, एस जयशंकर ने दी बधाई

खेल रत्न के बाद अब इस जगह से भी हटा राजीव गांधी का नाम, असम सरकार ने लिया बड़ा फैसला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -