सोनभद्र मामले को लेकर आक्रामक हुई कांग्रेस, राज्यपाल राम नाइक को सौंपा ज्ञापन

सोनभद्र मामले को लेकर आक्रामक हुई कांग्रेस, राज्यपाल राम नाइक को सौंपा ज्ञापन

मिर्ज़ापुर: सोनभद्र में जमीन विवाद के चलते हुए 10 लोगों की हत्या के मामले में कांग्रेस ने नाराजगी जाहिर की है. शनिवार को कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी की अगुवाई में पार्टी प्रतिनिधिमंडल ने गवर्नर राम नाईक से राजभवन में मुलाकात की. इस दौरान कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल ने गवर्नर राम नाइक को ज्ञापन भी सौंपा.

गवर्नर राम नाइक से मिलने के बाद कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने कहा कि यूपी की योगी सरकार नहीं चाहती कि कोई पीड़ितों के आंसू पोछे. यह जो कुछ भी हो रहा है वो असंवैधानिक और लोकतंत्र का हनन है. ऐसा लगता है कि यूपी की योगी सरकार अपनी विफलताओं और कमजोरी को छिपाने के लिए अघोषित आपातकाल लगा रही है. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा शांति पूर्वक दो वाहनों से सोनभद्र जा रही थीं.

प्रमोद तिवारी ने कहा कि प्रियंका वाड्रा को गैर संवैधानिक तरीके से रोका गया. जब पुलिस से उन्‍हें रोकने की वजह पूछी गई तो कहा गया कि ऊपर से आदेश है. बाद में प्रशासन ने धारा 144 का हवाला दिया. प्रमोदी तिवारी ने कहा कि जब प्रियंका वाड्रा ने पुलिस से कहा कि धारा 144 में 5 लोगों से कम लोगों के साथ जाने की इजाजत है. मैं जा सकती हूं. फिर भी उन्‍हें जाने से रोक दिया गया. प्रमोद तिवारी ने आरोप लगाया कि प्रशासन और हत्यारों की यह मिलीभगत है. 1955 से जितनी सरकार आईं उनके समय तो ऐसा कुछ नहीं हुआ. 

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने स्वीकार किया सिद्धू का इस्तीफा, कई दिनों से था मतभेद

आज़म खान का विवादित बयान, कहा- भारत में हैं, इसलिए सजा भुगत रहे हैं मुसलमान, अगर पाकिस्तान में होते...

टीएमसी सांसद से बोले लोकसभा स्पीकर, कहा- यहां पश्चिम बंगाल सरकार की मार्केटिंग न करें