कांग्रेस नेता अधीर रंजन ने पीएम मोदी से इस शख्स की रिहाई का किया निवेदन

कांग्रेस नेता अधीर रंजन ने पीएम मोदी से इस शख्स की रिहाई का किया निवेदन

कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर भीमा कोरेगांव केस के सिलसिले में हिरासत किए गए सामाजिक कार्यकर्ता वरवारा राव बरी करवाने में हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है. हालत बिगड़ने की वजह से राव को सर जेजे चिकित्सालय में स्थानांतरित किया गया है. साथ ही, सोमवार को अपने खत में चौधरी ने लिखा , 'इस भारत में 81 वर्ष का 1 व्यक्ति बिना अपना अपराध जाने वर्षो से जेल में बंद है. अब वह मानसिक रूप से समर्थ नही रह गया है, उसे कोई भी चिकित्सिय मदद नहीं मिल रही है, जिनका नाम कवि वरवारा राव है.'

Maharashtra HSC Result 2020 : लाखों छात्रों को लगा बड़ा झटका, अब इस दिन जारी हो सकता है परिणाम

उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को लिखे अपने खत में बताया कि कृपया उन्हें जेल से रिहा किया जाए. इस ऐज में वह विश्व के सबसे मजबूत देशों में से एक के लिए संकट नहीं हो सकते हैं. उन्होंने प्रधानमंत्री  मोदी से अपील करते हुए बताया कि आप इस केस में हस्तक्षेप कर सकते हैं और उसका जीवन बचा सकते हैं. अन्यथा, हमारी आने वाली पीढ़ियां हमें क्षमा नहीं करेंगी.

महामारी की वैक्सीन नहीं होगी सस्ती, गंभीर कोरोना मरीजों के लिए चुकाने पड़ेंगे 8000 रु प्रति 25 मिग्रा दाम

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि नवंबर 2018 में पांच अन्य लोगों के साथ वरवरा राव को नक्सलियों के साथ संबंध और हिंसा भड़काने के आरोप में हिरासत में लिया गया था. बता दे कि राव को पुणे पुलिसकर्मी ने भीमा-कोरेगांव हिंसा केस  में सुधा भारद्वाज, अरुण फरेरा, वर्नन गोंसाल्विस और गौतम नवलखा के साथ हिरासत किया था. एक जनवरी, 2018 को पुणे के भीमा कोरेगांव में हुई हिंसा में एक व्यक्ति की मृत्यु हो गई थी और दस पुलिसकर्मियों के अलावा कई लोग घायल हो गए थे. मामले में पुलिसकर्मी ने 162 लोगों के विरूध्द 58 केस दर्ज किए थे.

इन खासियतों के कारण सबके चहेते हैं सलमान खान, करते हैं करोड़ों दिलों पर राज

टॉक शो 'द रियल' को छोड़ रहीं हैं Tamera Mowry Housley

चौथे दिन भी जारी रहा गांधी अस्पताल के आउट सोर्सिंग नर्सिंग स्टाफ का प्रदर्शन