मेवाणी के तेवर से कांग्रेस मुश्किल में

अहमदाबाद। गुजरात विधानसभा चुनाव में एक तरफ जहां दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर वड़गांव से निर्वाचन लड़ने की घोषणा की है तो वहीं दूसरी तरफ, कांग्रेस से मनिभाई वाघेला को मैदान में उतारा गया है. हालांकि, मीडिया में पहले इस बात की जानकारी सामने आई थी कि, कांग्रेस ने मेवाणी की सीट पर अपना प्रत्याशी नहीं उतारा है लेकिन, अब जानकारी सामने आ रही है कि, वड़गांव क्षेत्र की सीट पर कांग्रेस के मनिभाई वाघेला का प्रभाव है। यहां से वे एक प्रबल दावेदार माने जाते हैं।

उन्हें इस क्षेत्र में कद्दावर नेता माना जाता है। हालांकि  मेवाणी एंटी बीजेपी पोलिटिक्स करने वाली पार्टियों से अपील कर चुके हैं कि, वे इस सीट पर अपने उम्मीदवारों को टिकट न दें। ऐसे में कयास ये लगाए जा रहे हैं कि, इस सीट पर कांग्रेस, दलित नेता से गठबंधन कर लेगी। संभावना है कि, कांग्रेस और मेवाणी आपसी तालमेल से इस सीट का गठजोड़ कर लेंगे। यहां पर मेवाणी का भी अच्छा प्रभाव है। यदि, मेवाणी कांग्रेस को समर्थन देते हैं तो फिर भाजपा के लिए परेशानी हो सकती है।

गौरतलब है कि, कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के लिए तीसरी सूची जारी कर दी है। हालांकि कांग्रेस का प्रत्याशियों के नामों को लेकर पाटीदार नेताओं से विवाद हो गया था। ऐसे में हालात तोड़फोड़ और उग्र प्रदर्शन के बन गए थे। कांग्रेस की तीसरी सूची जारी होने के बाद जमकर हंगामा हो गया। कार्यकर्ताओं ने अहमदाबाद, गांधीनगर सहित विभिन्न भागों में तोड़फोड़ कर दी। दूसरी ओर, जानकारी सामने आई है कि, कालोल से विधायक बलदेवजी ठाकोर और कडी सीट से रमेश चावड़ा को रविवार की शाम को पार्टी ने चुनाव लड़ने की सहमति दे दी है। कडी की सीट को पार्टी के लिए सुरक्षित माना जाता है।

गुजरात में आज चुनावी प्रचार करेंगे प्रधानमंत्री मोदी

कांग्रेस ने जारी की प्रत्याशियों की तीसरी सूची

जदयू के प्रचार के लिए गुजरात नहीं जाऐंगे सीएम नीतीश

भाजपा ने जारी की छठी लिस्ट

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -