इस लोकसभा सीट को जीतकर बहुत खुश है कांग्रेस, जानिए क्या है इसकी वजह

इस लोकसभा सीट को जीतकर बहुत खुश है कांग्रेस, जानिए क्या है इसकी वजह

रायपुर: 2019 लोकसभा चुनाव में बुरी तरह हारने के बाद भी छत्तीसगढ़ कांग्रेस नक्सल प्रभावित बस्तर लोकसभा सीट मे मिली जीत से काफी संतुष्ट और प्रसन्न है। कांग्रेस अनुसूचित जनजातियों के लिए आरक्षित इस लोकसभा सीट से पहली मर्तबा संसदीय चुनाव जीती है। इस लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार दीपक बैज ने भाजपा के बैदुराम कश्यप को 38,982 मतों के अंतर से हराया है।

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को उम्मीद थी कि वह विधानसभा चुनावों का प्रदर्शन को जरूर दोहराएगी और 11 लोकसभा सीटों में से अधिकतर उसके हिस्से में आएंगी। पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 15 वर्ष के भाजपा शासन को समाप्त कर प्रदेश में सरकार बनाई थी। लेकिन उम्मीद के उलट राज्य की 11 संसदीय सीटों में से कांग्रेस के हिस्से में केवल दो... कोरबा और बस्तर सीटें आयी हैं। अन्य नौ भाजपा के खाते में गयी हैं।

अगर लोकसभा चुनावों की बात करें तो पिछले चार चुनावों में यह कांग्रेस का सबसे अच्छा प्रदर्शन है। इससे पहले के तीन लोकसभा चुनावों में कांग्रेस के खाते में केवल एक सीट आई थी। राज्य कांग्रेस के प्रवक्ता शैलेष नितिन त्रिवेदी ने मीडिया को बताया कि, ''हमने आदिवासी प्रत्याशियों के लिए आरक्षित बस्तर और कांकेर लोकसभा सीटों पर शानदार प्रदर्शन किया। यह अलग है कि हम केवल बस्तर सीट ही जीत सके, और मात्र 6,917 वोटों के अंतर से कांकेर मे हारे। मोदी लहर के बाद भी कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ में सीटों की तादाद बढ़ाकर दो कर ली है।''

गर्दिश में हैं सिद्धू के सितारे, राजनीति से लेना पड़ सकता है सन्यास

कोई भी समाज किसी पार्टी का बंधुआ मतदाता नहीं - सुशिल मोदी

चुनाव में मिला जनादेश, नया भारत और नया यूपी बनाने का जनादेश - सीएम योगी