सफल हो गई पवन खेड़ा की तपस्या..! कांग्रेस ने दिया बड़ा प्रमोशन

नई दिल्ली: कांग्रेस ने पार्टी के वरिष्ठ नेता पवन खेड़ा को अपने न्यू कॉम्युनिकेशन डिपार्टमेंट के मीडिया ऐंड पब्लिसिटी सेल का का अध्यक्ष नियुक्त किया है। कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी की अनुमति से पवन खेड़ा को यह जिम्मेदारी दी गई है। पार्टी के महासचिव केसी वेणुगोपाल की तरफ से जारी किए गए पत्र में यह जानकारी दी गई है। पवन खेड़ा के लिए यह प्रमोशन माना जा रहा है। 

दरअसल, पवन खेड़ा खुद को राज्यसभा प्रत्याशी बनाए जाने का दावा कर रहे थे, मगर उन्हें यह अवसर नहीं मिला था। इस पर उन्होंने दुख व्यक्त करते हुए कहा था कि शायद मेरी तपस्या में कोई कमी रह गई होगी। बताया जा रहा है कि उन्हें राज्यसभा न भेजने की भरपाई ही इस प्रमोशन के माध्यम से की गई है। केसी वेणुगोपाल की तरफ से जारी पत्र में कहा गया कि, 'अध्यक्ष सोनिया गांधी की इजाजत से पवन खेड़ा को मीडिया एवं पब्लिसिटी डिपार्टमेंट का अध्यक्ष बनाया जाता है। यह नियुक्ति तत्काल प्रभाव से लागू की जाती है।'

बता दें कि मई के अंतिम सप्ताह में कांग्रेस ने राज्यसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों के नामों की घोषणा की थी। इस सूची में पवन खेड़ा का नाम नहीं था, जो दावेदारी कर रहे थे। इस पर उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा था कि शायद मेरी तपस्या में कुछ कमी रह गई। उनके इस ट्वीट की सियासी हलकों में जमकर चर्चा हुई थी और इसे कांग्रेस से उनकी नाराजगी के रूप में देखा गया था। खेड़ा के इस ट्वीट को कांग्रेस की एक और नेता नगमा ने भी रीट्वीट किया था। नगमा ने पवन खेड़ा के ट्वीट को शेयर करते हुए इमरान प्रतापगढ़ी पर तंज कसा था। नगमा में लिखा था कि, 'हमारी भी 18 साल की तपस्या इमरान प्रतापगढ़ी के आगे कम पड़ गई।' बता दें कि गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा जैसे कई अन्य वरिष्ठ नेताओं को भी कांग्रेस ने इस बार राज्यसभा नहीं भेजा है।

नवाब मलिक और अनिल देशमुख नहीं कर पाएंगे वोटिंग, भड़के संजय राउत ने दे डाला बड़ा ये बयान

'तुम्हारी हत्या होने वाली है', BJP सांसद को मिली जान से मारने की धमकी, वायरल हुआ ऑडियो

'चुनाव में एक साथ खड़ी हुई पंचायत सचिव की 3 पत्नियां', बदनामी से बचने के लिए पति ने उठाया ये कदम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -