पंजाब चुनाव: पूर्व मंत्री जोगिंदर सिंह ने कांग्रेस से तोड़ा 50 साल पुराना रिश्ता, थामा AAP का हाथ

अमृतसर: कांग्रेस के दिग्गज नेता और पंजाब के पूर्व मंत्री जोगिंदर सिंह मान ने आज आम आदमी पार्टी (AAP) का दामन थाम किया है. कांग्रेस से 50 वर्ष पुराना नाता तोड़ते हुए जोगिंदर सिंह ने शुक्रवार को पार्टी से त्यागपत्र दे दिया था. अनुसूचित जाति (SC) समुदाय के नेता जोगिंदर सिंह करोड़ों रुपये के पोस्ट-मैट्रिक SC स्कॉलरशिप घोटाले के अपराधियों पर कोई कार्रवाई नहीं किए जाने और फगवाड़ा को जिला का दर्जा नहीं दिए जाने को लेकर कांग्रेस से खफा थे.

AAP नेता और पंजाब पार्टी के सह-प्रभारी राघव चड्ढा ने कहा कि जोगिंदर सिंह के पार्टी में शामिल होने से राज्य में पार्टी को बहुत बढ़ावा मिलेगा. उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘अरविंद जी के विजन से प्रेरित होकर पंजाब के पूर्व कैबिनेट मंत्री और तीन बार के MLA जोगिंदर सिंह मान जी कांग्रेस से 50 वर्ष पुराने नाता को तोड़ कर AAP में शामिल हो गए. वह वर्तमान में पंजाब एग्रो इंडस्ट्रीज कार्पोरेशन के चीफ थे. उनके शामिल होने से पंजाब की पार्टी इकाई को बहुत प्रोत्साहन मिलेगा.’

बता दें कि ने कांग्रेस और पंजाब कृषि उद्योग निगम के अध्यक्ष पद से शुक्रवार को त्यागपत्र दे दिया था. सूत्रों ने इससे पहले बताया था कि मान के AAP में शामिल होने का अनुमान है. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे पत्र में मान ने कहा था कि, उनका एक सपना था कि वह एक कांग्रेसी के तौर पर ही मरेंगे. मगर मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना के दोषियों को कांग्रेस का संरक्षण हासिल है और ऐसे में उनकी अंतरात्मा उन्हें पार्टी में रहने की इजाजत नहीं देती है.

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने खुद संभाला मोर्चा, टिकट बंटवारे पर बैठक में हुए शामिल

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

फर्म में निवेशकों को गुमराह करने के आरोप में इस कंपनी के संस्थापक को 26 सितंबर को होगी जेल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -