कर्नाटकः पोर्नगेट में फंसे उपमुख्यमंत्री को लेकर विवाद गहराया

बेंगलोरः कर्नाटक फिर सुर्खीयों में है। बीते दिनों सीएम येदियुरप्पा ने अपने कैबिनेट का विस्तार किया था। इस विस्तार में सबसे विवादित चेहरा उपमुख्यमंत्री लक्ष्मण सावदी हैं। जिनपर विधानसभा में पोर्न देखने का आरोप है। कर्नाटक की महिला कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इन्हें बर्खास्त करने की मांग की है। इनका कहना है कि 2012 में सावदी विधानसभा के अंदर अश्लील वीडियो देखते हुए पकड़े गए थे।

इसी कारण हम भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से उन्हें बर्खास्त करने की मांग करते हैं। कांग्रेस नेता पुष्पा अमरनाथ ने कहा, '2012 में राज्य विधानसभा के अंदर वह अश्लील वीडियो देखते हुए पकड़े गए थे। हम भाजपा अध्यक्ष और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन्हें बर्खास्त करने की मांग करते हैं।' सावदी भाजपा नेता सीसी पाटिल और कृष्णा पालमर के साथ कैमरे में अश्लील वीडियो देखते हुए कैमरे में कैद हुए थे।

जिसके बाद उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि वह इसे शैक्षिक उद्देश्य से देख रहे हैं। उन्होंने कहा था कि वह वीडियो के जरिए रेव पार्टियों के बारे में जानकारी जुटाना चाहते थे। वह इस समय किसी विधानसभा या विधान परिषद के सदस्य नहीं हैं। इसके बावजूद येदियुरप्पा सरकार ने उन्हें उप मुख्यमंत्री का कार्यभार दिया हुआ है। माना जाता है कि कांग्रेस-जेडीएस की गठबंधन सरकार को अस्थिर करने में सावदी की अहम भूमिका है। वे स्पीकर द्वारा अयोग्य ठहराए गए विधायक रमेश जारकीहोली के करीबी हैं। राज्य सरकार क्या कदम उठाती है देखने वाली बात है। 

कांग्रेस नेता का बड़ा बयान, कहा- करतारपुर कॉरिडोर का गलत इस्तेमाल करेगा पाकिस्तान

बिहार: जदयू ने महागठबंधन को बताया 'भानुमति का कुनबा', भाजपा ने भी किया कटाक्ष

असम NRC को लेकर सियासत तेज़, शिवसेना बोली- मुंबई में लागू की जाए

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -