कर्नाटक में दिखी लोकतंत्र की खूबसूरती, धरना दे रहे भाजपा विधायकों के लिए कांग्रेस ने मंगाया भोजन

कर्नाटक में दिखी लोकतंत्र की खूबसूरती, धरना दे रहे भाजपा विधायकों के लिए कांग्रेस ने मंगाया भोजन

बैंगलोर: कर्नाटक विधानसभा में विश्‍वास मत पर गुरुवार को हुई चर्चा के बाद भाजपा विधायक वहीं धरना देते हुए पर रात भर रुके हुए थे. इस दौरान उन्‍होंने विधानसभा में ही रात्रि का भोजन किया था और शुक्रवार को सुबह नाश्ता भी विधानसभा में किया था. बताया जा रहा है कि यह भोजन कांग्रेस की तरफ से मंगाया गया था. कर्नाटक के डिप्टी सीएम जी परमेश्‍वर ने विधानसभा में रात भर विधानसभा में रुके भाजपा विधायकों से शुक्रवार सुबह मुलाकात की और उनके साथ बैठकर नाश्‍ता किया.

इसके बाद जी परमेश्वर ने कहा कि भाजपा विधायक रात भर विधानसभा में धरने पर रहे. यह हमारी जिम्‍मेदारी है कि हम उनके लिए भोजन और दूसरी आवश्यक वस्तुओं का प्रबंध करें. उनमें से कुछ को डायबिटीज और ब्‍लड प्रेशर की समस्या है. इसीलिए हम लोगों ने उनके लिए यह प्रबंध किए. सियासत से परे हम लोग अच्‍छे मित्र हैं और यही लोकतंत्र की खूबसूरती है.

आपको बता दें कि विधानसभा में गुरुवार से ही विश्‍वास मत पर बहस चल रही है. गवर्नर वजुभाई वाला ने सूबे के सीएम एचडी कुमारस्‍वामी को शुक्रवार को दूसरा पत्र भेजकर उनसे विधानसभा में शाम 6 बजे तक बहुमत सिद्ध करने के लिए कहा है. इससे पहले गवर्नर ने कुमारस्‍वामी को बहुमत साबित करने के लिए शुक्रवार दोपहर 1:30 बजे तक की मोहलत  थी. लेकिन इस समयसीमा में विधानसभा में फ्लोर टेस्‍ट नहीं हुआ. इस पर विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने कहा कि जब तक बहस संपन्न नहीं हो जाती तब तक विश्‍वास मत पर मतदान नहीं हो सकती.

गेस्ट हाउस में फिर धरने पर बैठी प्रियंका वाड्रा, सोनभद्र जाने की जिद पर अड़ी

विधानसभा चुनाव को लेकर झारखण्ड में सियासत गर्म, भाजपा-झामुमो सदस्यता अभियान में जुटी

सोनभद्र नरसंहार: पीड़ितों से मिलने जा रही थी प्रियंका, यूपी पुलिस ने हिरासत में लिया