मेकअप में रंगों का सही प्रयोग

रेडनेस, डार्क सर्कल, चेहरे के डलनेस जैसी आम प्रॉब्लम्स को बड़ी ही आसानी और परफेक्ट तरीके से छुपाना है तो मेकअप करते समय रंगों का सही इस्तेमाल करना आना चाहिए. तो आइये इसी टॉपिक पर कुछ टिप्स देखते है.  

पीच: पीच या ऑरेन्ज़ का शेड आपके डार्क सर्कल्स, चेहरे की बारीक रेखाओं और पिगमेंटेशन को हटा तो नहीं सकता, लेकिन उसे बहुत हद तक छुपा ज़रूर सकता है. डार्क सर्कल्स और दाग-धब्बों को छुपाने के लिए कंसीलर अप्लाई करने से पहले एक लेयर इसकी लगाएं.

पर्पल: पर्पल, लाइलैक (हल्का बैंगनी कलर) या लैवेंडर कलर के करेक्टर आपके स्किन का पीलापन कम करते हुए इसे ज्यादा गोरा और ग्लोइंग दिखाता है. रैडिएंट स्किन लुक के लिए अपने रेगुलर फाउंडेशन में एक मटर के दाने जितनी मात्रा में ये कलर करेक्टर मिलाकर अप्लाई करें.

ग्रीन: स्किन प्रोन से लेकर एक्ने और रेडनेस तक की प्रॉब्लम में ग्रीन करेक्टर्स बेस्ट हैं. ये रेड कलर का इफेक्ट खत्म कर देता है. या तो इसे अपने रेगुलर फाउंडेशन में मिलाकर पूरे चेहरे पर लगाएं या सिर्फ चेहरे पर प्रॉब्लम वाली जगह पर अप्लाई करें और उसके ऊपर फाउंडेशन की लेयर लगाएं.

पिंक: पिंक करेक्टर हर तरह के स्किन टोन में चेहरे का ग्लो बढ़ाता है और आपका चेहरा ज्यदा हेल्दी नज़र आता है. ये आपके चेहरे की महीन रेखाओं और खुले हुए पोर्स को भी छुपा देता है.

यलो: बहुत गोरी स्किन में अक्सर नसें उभरी हुई दिखती हैं, ऐसे में यलो करेक्टर आपके काम आ सकता है. इसके लिए अपने फाउंडेशन से पहले यलो करेक्टर की एक हल्की लेयर लगाएं.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -