'एक बेटा लौटा है, दूसरा देश सेवा करता रहेगा..', शहीद बेटे के अंतिम संस्कार में बोले पिता, देखें Video

इम्फाल: मणिपुर में हुए आतंकी हमले में एक कर्नल सहित चार जवान वीरगति को प्राप्त हो गए. कर्नल विप्लव त्रिपाठी (Colonel Viplav Tripathi) की पत्नी और मासूम बेटे की भी इस हमले में मौत हो गई. इस बीच शहीद जवान खतनेई कोन्याक (Kathnei Konyak) के अंतिम संस्कार के दौरान दिया गया उनके पिता का एक बयान सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. जिसे सुनकर हर भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा हो गया. 

 

इस वीडियो को खुद इंडियन आर्मी ने रीट्वीट किया है. वीडियो में देखा जा सकता है कि मणिपुर आतंकी हमले में वीरगति को प्राप्त हुए राइफलमैन खतनेई कोन्याक (Rifleman Kathnei Konyak) के पार्थिव शरीर के पास उनके पिता खड़े हैं. इस दौरान उन्होंने ऐसी बातें कहीं, जिसे सुनकर प्रत्येक देशवासी को गर्व होगा. कोन्याक के पिता ने कहा कि अभी उनका एक और बेटा जीवित है. वह देश की सेवा करना जारी रखेगा. शहीद कोन्याक के अंतिम संस्कार के दौरान उनके पिता ने कहा कि, 'मैंने अपने दो बेटों को देश को मजबूत बनाने के लिए भेजा था. आज एक लौट आया है. मेरे पास एक और है. कोन्याक का भाई उसकी तरह ही देश की सेवा करता रहेगा.'

बता दें कि 13 नवंबर को मणिपुर में हुए आतंकी हमले में राइफलमैन कथनेई कोन्याक शहीद हो गए थे. कोन्याक का नगालैंड के तिजित (Tizit) में अंतिम संस्कार किया गया. इस हमले में कोन्याक के साथ ही कर्नल विप्लव त्रिपाठी, राइफलमैन श्यामल दास, सुमन स्वरगियरी, आरपी मीणा भी वीरगति को प्राप्त हुए थे. कर्नल त्रिपाठी की पत्नी और एक बेटे की भी इस हादसे में मौत हो गई थी. 

नए रिकॉर्ड की तरफ बढ़ रहा सोने-चांदी! कीमतों में आया भारी उछाल, जानिए आज का भाव

मुस्लिम इलाकों में कोरोना टीकाकरण की रफ़्तार सुस्त, अब सलमान खान की मदद लेंगे CM ठाकरे

कोरोना के विरुद्ध 6 माह तक कारगर होगी कोवैक्सीन, NII ने कही ये बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -