यूपी में ठंड की मार ने तोड़ा रिकॉर्ड, फसलें बर्बाद और 6 की मौत

लखनऊ: प्रदेश में बीते बुधवार और गुरुवार को हुई बूंदाबांदी के बाद शुक्रवार को मौसम और बिगड़ गया. बारिश और कई जिलों में ओलावृष्टि से प्रदेश में शीतलहर का दौर शुरू हो गया है. 7 डिग्री सेल्सियस न्यूनतम तापमान के साथ बस्ती यूपी में सबसे ठंडा रहा. दिसंबर की ठंड ने कानपुर में 19 जबकि मेरठ में 22 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. हरदोई में बिजली गिरने से दो मासूम समेत तीन की मौत हो गई. फर्रुखाबाद में खेत की रखवाली कर रहे किसान की मौत हो गई. वहीं, अमरोहा जिले के भैंसरोली गांव में छप्पर के नीचे दबकर बुजुर्ग किसान की मौत हो गई. एटा में पेड़ गिरने से किसान की जान चली गई. कई जिलों में खंभे गिरने से बिजली सप्लाई ठप हो गई है. ओलावृष्टि से अवध समेत वेस्ट यूपी के कई जिलों में सैकड़ों एकड़ फसलों को नुकसान पहुंचने की आशंका है.

वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बुंदेलखंड समेत सेंट्रल यूपी के तकरीबन सभी जिलों में सर्द हवाओं, बारिश व ओलावृष्टि से मौसम और बेरहम हो गया. कानपुर में दो दिन से रुक-रुककर हो रही बारिश से ठंड ने 19 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. कानपुर में 2000 के बाद पहली बार दिसंबर महीने में शुक्रवार को अधिकतम तापमान 18.4 डिग्री सेल्सियस रहा.

जंहा रिपोर्ट का कहना है कि हरदोई में बीते शुक्रवार सुबह बारिश के दौरान बिजली गिरने से देहात कोतवाली क्षेत्र के गांव नीर निवासी आरती (18) की मौत हो गई. वहीं अरवल थाना क्षेत्र के ग्राम आलमपुर मड़ैया में सुबह बारिश और बिजली कड़कने के बीच दो मासूमों की मौत हो गई. पुलिस को सूचना दिए बिना ही परिजनों ने दोनों शवों का अंतिम संस्कार कर दिया. चित्रकूट में कई कच्चे घर क्षतिग्रस्त हो गए. फतेहपुर व कानपुर देहात जिले में चार मवेशियों की जान चली गई. औरैया में दो व चित्रकूट में चार मवेशियों की मौत हो गई.

जबलपुर: नाले के पास खून से लथपथ मिली पांच वर्षीय मासूम, परिजनों ने लगाया दुष्कर्म का आरोप

2 लाख महिलाओं के साथ हुआ था बलात्कार, मारे गए थे 30 लाख लोग, तब कहीं जाकर बना था बांग्लादेश

UPPSC परीक्षा: निगेटिव मार्किंग से बचने के लिए अपनाये यह टिप्स

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -