राज्य को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना चाहते हैं सीएम जगन, अधिकारियों से की यह अपील

विजयवाड़ा : आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी इन दिनों कई तरह की चर्चाएं कर रहे हैं. अब हाल ही में उन्होंने कहा है कि, 'किसी भी स्थिति में राज्य में भ्रष्टाचार के लिए कोई जगह नहीं है और भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेंकना ही होगा.' हाल ही में उन्होंने कहा कि 'राज्य में व्यवस्था होनी चाहिए कि लोग भ्रष्टाचार करने से पहले सौ बार सोचने को मजबूर हों. उन्होंने अधिकारियों को भ्रष्टाचार मुक्त नितियों के साथ आगे बढ़ने का निर्देश दिया.'

जी दरअसल कैंप कार्यालय में एक समीक्षा बैठक हुई और यह भ्रष्टाचार उन्मूलन पर मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी की अध्यक्षता में हुई. इसमें सीएम ने 14400 कॉल सेंटर, कैबिनेट सब कमेटी की रिपोर्ट, आईआईएम अहमदबाद की रिपोर्ट, रिवर्स टेंडरिंग, ज्यूडिशियल प्रीव्यू आदि मुद्दों पर समीक्षा की. वहीं इस मौके पर सीएम ने बात की और कहा कि आगे से 1902 नंबर भी एसीबी से जोड़ देना चाहिए. इसके अलावा ग्राम और वार्ड सचिवालय स्तर से भ्रष्टाचार के खिलाफ मिलने वाली शिकायतें स्वीकार करने पर मुख्यमंत्री ने जोर दिया. उन्होंने कहा कि, 'इन शिकायतों की मॉनिटरिंग करने के लिए एक सशक्त व्यवस्था की जरूरत है.'

इसके अलावा उन्होंने यह तक कहा कि 1902 पर मिलने वाले कॉल्स के पर्यवेक्षण के लिए एक इंप्लीमेंटशन डिपार्टमेंट होना चाहिए और इससे कलेक्टर का कार्यलय भी जोड़ देना चाहिए. इस दौरान सीएम ने यह भी कहा कि, 'मुख्य रूप से टाउन प्लानिंग, सब-रजिस्ट्र्रार, एमआरओ और एमडीओ कार्यालयों में भ्रष्टाचार का नामोनिशान मिटा देना चाहिए.' इसके अलावा मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि, '14400 नंबर के व्यापक प्रचार के लिए पर्मनेंट होर्डिंग्स लगाने के अलावा रंगेहाथ पकड़े गए लोगों के खिलाफ बगैर किसी विलंब के कार्रवाई होनी चाहिए.'

माँ ने नहीं दिलाया स्मार्टफोन तो बेटी ने कर ली आत्महत्या

77 वर्षीय बुजुर्ग पर दुष्कर्म का आरोप निकला फर्जी, सुप्रीम कोर्ट ने दी जमानत

143 लोगों का दुष्कर्म बना पुलिस के लिए सिरदर्द!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -