'बलात्कार' पर मुलायम यादव के पुराने बयान को लेकर सीएम योगी ने अखिलेश को घेरा, विधानसभा में कही ये बात

लखनऊ:  उत्तर प्रदेश विधानसभा में दूसरे दिन सियासी दलों और नेताओं ने गवर्नर के भाषण पर चर्चा की। इस दौरान नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव ने महिलाओं के विरुद्ध हो रहे अपराधों को लेकर योगी सरकार पर कई सवाल खड़े किए। समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता ने चंदौली, प्रयागराज और अलीपुर की घटनाओं का भी उल्लेख किया और सीएम योगी आदित्यनाथ से इसका जवाब भी मांगा। साथ ही यह भी पूछा कि महिलाओं के खिलाफ अपराध राकेने के लिए सरकार के पास क्या योजना है? 

नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव के सवाल पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने तीखा हमला करते हुए कहा कि, भाजपा सरकार अपराधियों खिलाफ सख्त कार्रवाई करती है। यह भाजपा की सरकार है। भाजपा की सरकार में यह नहीं कहा जाता है कि 'लड़के हैं।।।गलती कर देते हैं।'  सीएम योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि अपराधी कोई भी हो, उसके विरुद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत कार्रवाई होती है। उन्होंने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि नेता प्रतिपक्ष हर उस अपराधी का समर्थन करते हैं जो राज्य में अराजकता के पर्याय थे। गुंडागर्दी जिनका पेशा बन चुका था।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीते पांच वर्षों के दौरान कानून व्यवस्था बेहतर होने के चलते ही इस सरकार को फिर से व्यापक जनसमर्थन मिला है। प्रत्यक्ष को किसी प्रमाण की जरूरत नहीं होती है।  बता दें कि, मुलायम सिंह यादव ने एक बार बलात्कार के जघन्य मामलों पर शमर्नाक बयान देते हुए कहा था कि, लड़कों से गलती हो जाती है। जिसके बाद से ही सियासी दल इस मुद्दे पर समाजवादी पार्टी को घेरते रहते हैं।   

पिता मंत्री थे तो चीनियों को दिलवा दिया 'भारत' का वीजा, अब कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम पर ED ने कसा शिकंजा

अभी कांग्रेस को और दर्द देंगे सुनील जाखड़, कई बड़े नेताओं को भाजपा में लाने की तैयारी

अखिलेश से दूर अलग सियासी खिचड़ी पका रहे शिवपाल-आज़म, क्या छोड़ देंगे सपा का साथ ?

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -