कोरोना के Delta+ वैरिएंट को लेकर अलर्ट पर यूपी सरकार, सीएम योगी ने दिए अहम निर्देश

नई दिल्ली: पूरे देश में तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के नए वैरिएंट 'डेल्टा प्लस' का खतरा अब उत्तर प्रदेश में भी पांव पसारने लगा है. नागपुर से आए एक शख्स में डेल्टा+ वैरिएंट की पुष्टि होने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने अहम निर्देश दिए हैं. सीएम योगी ने राज्य में आने वाले यात्रियों का RTPCR टेस्ट कर उनके सैम्पल की जीनोम सीक्वेंसिंग कराने के निर्देश दिए हैं.

दरअसल, बुधवार को नागपुर से आया एक यात्री डेल्टा+ वैरिएंट से संक्रमित मिला था, जिसके बाद से ही राज्य सरकार अलर्ट पर है. केंद्र सरकार भी अलर्ट पर है और शुक्रवार को ही केंद्र ने 8 राज्यों को पत्र लिखते हुए कहा है कि जिन-जिन जिलों में डेल्टा प्लस वैरिएंट के केस सामने आए हैं, वहां फ़ौरन कंटेनमेंट जोन बनाए जाएं. यूपी में भी डेल्टा प्लस वैरिएंट का केस सामने आने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिया है कि राज्य में आने वाले हर मुसाफिर का RTPCR टेस्ट किया जाए और उसका सैम्पल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा जाए. इसके साथ ही उन्होंने KGMU और  BHU में जीनोमी सीक्वेंसिंग का प्रबंध करने के भी निर्देश दिए हैं. 

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, डेल्टा प्लस वैरिएंट के अब तक 12 प्रदेशों में करीब 50 केस दर्ज किए जा चुके हैं. सबसे अधिक 20 केस महाराष्ट्र में, 9 मामले तमिलनाडु में और 7 मामले मध्य प्रदेश से दर्ज किए गए हैं.

ICMR की स्टडी में बड़ा दावा, बताया क्या होगा कोरोना की तीसरी लहर का असर

हम साबित करना चाहते थे कि हम ODI क्रिकेट खेल सकते हैं...', 1983 को याद कर बोले कपिल देव

चंद दिनों की राहत के बाद फिर भड़की पेट्रोल-डीजल की कीमतों में आग, जानिए क्या है नया भाव?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -