हम कड़की में हैं, टैक्स ही नहीं आया, मामा भी परेशानी में है: सीएम शिवराज सिंह

भोपाल: एक बार फिर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपने अनोखे अंदाज के लिए चर्चाओं में हैं। खंडवा जिले के दौरे के चलते उन्होंने एक सार्वजनिक सभा की। इस के चलते मुख्यमंत्री शिवराज ने कोरोना संक्रमण के बीच राजस्व की कमी का मजेदार अंदाज में जिक्र करते हुए बोला, 'कड़की में है, उधार ले लूं, बाद में चुका देंगे यार।" 

दरअसल, पिछले दिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह खंडवा जिले के एक दिवसीय दौरे पर आये थे। यहां उन्होंने एक सार्वजनिक सभा में बोला, "हम कड़की में तो हैं, इसमें कोई दो मत नहीं। कोरोना में रुपया आया ही नहीं। 16 महीने में आठ महीने तो सूखे निकल गए, कर ही नहीं आया। मामा भी समस्या में है। किन्तु हमने निर्धारित किया है कि चाहे कुछ भी हो जाये, उधार भी लेना पड़ जाये तो लेंगे किन्तु सब जरूरी काम करेंगे।" 

साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि एमपी में कोरोना नियत्रंण में आ गया है। अच्छा वक़्त आयेगा तो उधार चुका देंगे। मुख्यमंत्री ने मंच से कहा कि मेरे जनतादर्शन का प्रोग्राम है, अनेकों गांव में जाकर शाम को लौटना है। मैं आपको यह आश्वस्त करने आया हूं कि कड़की में भी सभी आवश्यक काम करेंगे तथा जनता के कल्याण की योजनाएं बंद नहीं होने देंगे। साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज ने आगे कहा कि कोरोना को नियंत्रित कर ही लिया है, उधार बाद में चुका देंगे, अच्छा वक़्त आने दो। इस के चलते वो मंच से बोलते हैं, "उधार ले लूं, अरे ले लूं उधार? कांग्रेसी चिल्लाते हैं कि उधार ले लिया, ले लिया तो ले लिया।।। अब जनता के ही लिए लिया। क्या भूखा रहने दे जनता को?"

ज्योतिरादित्य सिंधिया के कदम पड़ते ही हुई फूलों की बारिश, रोड शो में उमड़ा लोगों का हुजूम

WHO का बड़ा बयान, कहा- दुनियाभर के 185 देशों में फैला डेल्टा वेरिएंट

आखिर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो, ED, DRI सब सोए क्यों पड़े हैं: रणदीप सुरजेवाला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -