मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लिखा राज्यपाल नजीब जंग को पत्र

नई दिल्ली : लगता है दिल्ली की राज्य सरकार और केंद्र सरकार के बीच तल्खियां कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं। जहां राज्य के सचिव की नियुक्ति को लेकर मामला अभी भी कोर्ट में लंबित है वहीं दूसरी ओर दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल नजीब जंग के बीच दिल्ली राज्य महिला आयोग के अध्यक्ष पद पर स्वाति मालीवाल की नियुक्ति को लेकर बवाल मच गया है। यही नहीं इस दौरान मुख्यमंत्री केजरीवाल द्वारा उपराज्यपाल नजीब जंग को पत्र लिखकर कहा गया है कि महिला आयोग के नवनियुक्त सभी सदस्यों की फाईलें छीन ली गई हैं।

यही नहीं कहा गया है कि महिला आयोग के नवनियुक्त सभी सदस्यों की फाईलें छिन लेने के साथ ही उनकेअधिकार भी छिनने का प्रयास किया जा रहा है। यही नहीं यह सब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इशारे पर हो रहा है। मामले में सीएम केजरीवाल ने कानून का हवाला देते हुए कहा है कि महिला आयोग से जुड़े कानून में उल्लेख है कि दिल्ली सरकार को दिल्ली महिला आयोग के सदस्यों की नियुक्ति करने का पूरा अधिकार है। इस दौरान यह भी कहा गया है कि उपराज्यपाल स्वयं ही दिल्ली सरकार है। आखिर एक व्यक्ति किस तरह से सरकार हो सकता है। इस दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मांग की है कि महिला आयोग का सुचारू रूप से चलना जनता के लिए बहुत आवश्यक है।

दिल्ली में चारों ओर महिलाओं के साथ अपराध और अन्याय हो रहा है। यही नहीं महिला आयोग सभी महिलाओं को न्याय दिलवाने का कार्य कर रहा है। मामले में उपराज्यपाल के माध्यम से केंद्र सरकार दिल्ली सरकार को झुकाने का प्रयास कर रही है। यह अहं की लड़ाई नहीं है। आखिर प्रधानमंत्री जी जीत गए हैं और हम हार गए हैं। केजरीवाल ने उपराज्यपाल से निवेदन किया है कि महिला आयोग को चालू करवा दिया जाए। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -