UP कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ़्तारी पर भड़के गहलोत, बोले- आवाज़ उठाना गुनाह नहीं

UP कांग्रेस अध्यक्ष की गिरफ़्तारी पर भड़के गहलोत, बोले-  आवाज़ उठाना गुनाह नहीं

जयपुर: राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी को निंदनीय करार दिया है. सीएम गहलोत ने पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से तत्काल दखल देकर उन्हें रिहा करवाने की मांग की है.

अशोक गहलोत ने ट्वीट करते हुए कहा है कि, 'यूपी कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को बिना गलती के गिरफ्तार कर लेना बेहद निंदनीय है. जनता की आवाज उठाना कोई अपराध नहीं है. यदि हर सत्ताधारी पार्टी यही करेगी तो इसका बेहद गलत प्रभाव पड़ेगा.' एक अन्य ट्वीट में गहलोत ने कहा है कि पीएम मोदी, अमित शाह और जेपी नड्डा को फ़ौरन उनकी रिहाई करने के लिए दखल देना चाहिए. अशोक गहलोत ने अपने ट्विटर अकाउंट पर तीनों नेताओं का नाम भी लिखा है.

आपको बता दें कि कांग्रेस और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के बीच प्रवासी श्रमिकों को बस मुहैया कराने के मुद्दे पर सियासी जंग लड़ी जा रही है. कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि भरतपुर में खड़ी बसों को आगरा जिला प्रशासन सियासी कारणों के चलते एंट्री नहीं दे रहा है. कांग्रेस ने यह भी आरोप लगाया था कि भाजपा प्रवासी श्रमिकों के मुद्दे पर सियासत कर रही है. वहीं इस मामले पर भाजपा का आरोप है कि कांग्रेस ने जिन बसों की सूची सौंपी थी, उसमें से अधिकतर बसों के नंबर ही नहीं थे. आगरा ग्रामीण के एसपी ने कहा था कि इंटर स्टेट यात्रा के लिए बसों की स्थिति अनुमति देने योग्य नहीं है.

इस राज्य में ब्रांड बन चुका है कोरोना

इस स्थान पर ट्रांसजेंडर समुदाय के लिए बनाए गए खास क्वारंटाइन सेंटर

यहां पर 15 जून से खुलने वाले है स्कूल, सरकार ने लिया बड़ा फैसला