दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा में तैनात होगा ये खास 'डॉग', खोज चुका है ओसामा बिन लादेन के ठिकाने

Jul 30 2019 05:07 PM
दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा में तैनात होगा ये खास 'डॉग', खोज चुका है ओसामा बिन लादेन के ठिकाने

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट और दिल्ली मेट्रो हमेशा आतंकियों के टारगेट पर रहते हैं. इन जगहों की सुरक्षा सीआईेएसएफ के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है. इन दोनों ही स्थानों पर खुफिया एजेंसियों द्वारा फिदायीन (आत्मघाती) हमलों की सूचना हमेशा मिलती रहती हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए सीआईएसएफ अब अपने डॉग स्कवॉड में एक विशेष प्रजाति के डॉग को शामिल करने का प्लान बना रही है. 

विशेष बात यह है कि बेल्जियन मेलिनॉयस नाम के जिस प्रजाति के डॉग को दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा के लिए तैनात किया जाने के बारे में विचार किया जा रहा है, उस डॉग ने दुनिया के मोस्ट वांटेड आतंकवादी ओसामा बिन लादेन को पाकिस्तान के एबटाबाद में उसके खुफिया ठिकाने को खोज निकालने में अमेरिकी सैनिकों की सहायता की थी. सीआईएसएफ के डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल डॉक्टर अनिल पांडे ने जानकारी देते हुए बताया है कि सीआईएसएफ ने 'खोज' को एक निजी डॉग ब्रीडर से प्राप्त किया है.

फिलहाल 'खोज' बेंगुलुरु में सीआईएसएफ डॉग ट्रेनिंग सेंटर में मौजूद है. 10 महीने तक उसे प्रशिक्षित किया जाएगा. डॉग का प्रशिक्षण और उसे खरीदने में एक लाख रुपये की लागत आई है. अगर इस लिहाज से देखा जाए तो 'खोज' सीआईएसएफ के डॉग स्कवॉड का सबसे महंगा डॉग हो गया है. 'खोज' को हासिल करने और फिर प्रशिक्षण पर आने वाला खर्च दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन उठाएगा. 

उत्तर प्रदेश में 5 सालों में चार लाख युवाओं को रोजगार देने का लक्ष्य

आर्थिक सुस्ती के गिरफ्त में ट्रांसपोर्ट व्यवसाय

विश्व के सर्वश्रेष्ठ CEO की लिस्ट में मुकेश अंबानी समेत 10 भारतीय शामिल