दिलीप दोषी का बड़ा बयान, कहा- फुटबॉल की फिटनेस को क्रिकेट में लाए थे चुन्नी गोस्वामी

पूर्व भारतीय लेफ्ट आर्म स्पिनर दिलीप दोषी ने भारतीय फुटबॉल लीजेंड चुन्नी गोस्वामी को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा है कि चुन्नी दा फ़ुटबॉल की फिटनेस को क्रिकेट में लाए थे. भारत की तरफ से 33 टेस्ट और 15 वनडे खेलने वाले दोषी बंगाल की तरफ से रणजी ट्रॉफी खेलते थे. चुन्नी गोस्वामी भारतीय फुटबॉल कप्तान होने के अलावा क्रिकेट के भी अच्छे ऑलराउंडर थे. गोस्वामी की कप्तानी में भारत ने 1962 के एशियायी खेलों का स्वर्ण पदक जीता था जबकि उनकी कप्तानी में बंगाल की रणजी टीम 1971-72 के रणजी फाइनल में पहुंची थी और बॉम्बे से हारकर उपविजेता रही थी.

72 साल के दिलीप दोषी ने कहा, "फुटबॉल पृष्ठभूमि से आने के कारण चुन्नी दा काफी फिट थे. मौजूदा समय में क्रिकेटर काफी फिट हैं, लेकिन उन दिनों में फुटबॉलर क्रिकेटरों के मुकाबले ज्यादा फिट हुआ करते थे. इस तरह देखा जाए तो चुन्नी दा फुटबॉल की फिटनेस को क्रिकेट टीम में लाए थे." चुन्नी गोस्वामी ने 46 प्रथम श्रेणी मैचों में 1592 रन बनाने के अलावा 47 विकेट भी लिए और 40 कैच भी पकड़े थे. गोस्वामी दाएं हाथ के बल्लेबाज थे और दाहिने हाथ से मध्यम तेज गेंदबाजी भी करते थे. दोषी ने कहा, "चुन्नी दा जानते थे कि वह किस पृष्ठभूमि (फुटबॉल) से आये हैं. वह एक बेहतरीन क्रिकेटर थे और उनकी संघर्ष क्षमता जबरदस्त थी जो उन्हें सबसे अलग रखती थी. वह मुश्किल परिस्थितियों में संघर्ष करने का जज्बा रखते थे और उनकी यही बात हमें प्रेरित करती है."

पूर्व लेफ्ट आर्म स्पिनर ने सुन्नी दा की नेतृत्व क्षमता की भी सराहना की. उन्होंने कहा, "चुन्नी दा अपने मजाकिया अंदाज से ड्रेसिंग रूम का माहौल हल्का-फुल्का रखते थे. वह भारतीय फुटबॉल टीम की कप्तानी कर चुके थे और उनके पास बेहतरीन नेतृत्व क्षमता थी. वह टीम के सदस्यों के सुझावों का हमेशा स्वागत करते थे. इसी कारण वह एक सच्चे लीडर थे."

लॉक डाउन के बाद मोहम्मद शमी और रोहित करेंगे यह काम

MS धोनी को जब सूझी मस्ती, किया ऐसा काम की उड़ गए थे चौकीदार के होश

ये है IPL के इतिहास में सबसे ज्यादा रन बनाने वाला बल्लेबाज़, खौफ खाते हैं दुनियाभर के गेंदबाज़

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -