लॉकडाउन में महिलाओं के मानसिक स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं चित्रांगदा सिंह

अभिनेत्री चित्रांगदा सिंह एक बेहतरीन एक्ट्रेस हैं और उनका मानना है कि 'चाहे जो हो जाए मानसिक रूप से फिट रहना अत्यंत महत्वपूर्ण है.' जी दरअसल उनका कहना है कि, ''परिवार में महिलाओं का मानसिक स्वास्थ्य हर किसी को प्रभावित करता है. इसलिए इसके बारे में बात करने के लिए प्रोत्साहित करना बहुत जरूरी है.'' आप सभी को बता दें कि कोरोना वायरस के चलते देश में लॉकडाउन लागू किया गया है और इस समय में सभी घर में रहने को मजबूर हैं.

हाल ही में चित्रांगदा ने कहा, "परिवार में महिलाओं का मानसिक स्वास्थ्य हर किसी को प्रभावित करता है और लोगों को इसके बारे में बात करने के लिए प्रोत्साहित करना बहुत महत्वपूर्ण है. लोगों को किसी भी तरह के मुद्दे या तनाव या चिंता के बारे में महिलाओं को दोषी महसूस नहीं करवाना चाहिए. नकली कठोरता दिखाने में कोई बहादुरी नहीं है. हम सभी कई बार कमजोर होते हैं, और लोगों को यह महसूस कराना अच्छा होता है कि सब ठीक है और सामान्य है. इसलिए, मेरा मानना है कि पहली बार में ही इस बारे में बात करना बहुत महत्वपूर्ण कदम है."

इसी के साथ अभिनेत्री ने कहा, "अगर परिवार के सभी सदस्यों के बीच परिवार का कार्यभार बांट दिया जाता है, तो यह मुश्किल नहीं होगा. मेरा सुझाव है कि एक व्यक्ति हर दिन के कामों को मैनेज करने या रसोई या बच्चों के कामों में मदद करने के लिए बारी-बारी से आगे आ सकते हैं. इसके अलावा घर की महिलाओं से बात करने के लिए कुछ समय निकालना भी महत्वपूर्ण है और भी जानें कि वह शारीरिक और मानसिक रूप से कैसा महसूस कर रही है."

पोल डांस की दीवानी हैं कृति खरबंदा, अब हो रहा इस बात का पछतावा

करीना की वैनिटी वैन देखकर उड़ जाएंगे आपके होश

सलमान से शादी के सवाल पर बोलीं लूलिआ- 'मेरे माता-पिता भी पूछते हैं..?'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -