मैजिक क्यूब के सहारे पृथ्वी का भविष्य जानेगा चीन

Oct 04 2015 03:14 AM
मैजिक क्यूब के सहारे पृथ्वी का भविष्य जानेगा चीन

बीजिंग: पृथ्वी के भविष्य को जानने की चाहत में, जलवायु और जैविक प्रणालियों में संभावित परिवर्तनों की गणना के लिए चीन की 1.4 करोड़ अमेरिकी डॉलर की लागत से करीब दो मंजिला इमारत की ऊंचाई वाले सुपर कंप्यूटर 'मैजिक क्यूब' को इस काम में लाने की योजना है। चीन के वैज्ञानिकों को उम्मीद है कि वे इससे बादलों के निर्माण से लेकर सैकड़ों या हजारों साल बाद जलवायु परिवर्तन तक पृथ्वी की प्राकृतिक व्यवस्था में वे लगभग सबकुछ की गणना कर सकेंगे।

चीनी विज्ञान अकादमी (CAS) के अंतर्गत आने वाले कई अनुसंधान संस्थानों ने संयुक्त रूप से विशेष सुपर कंप्यूटर का अनावरण किया, जिसे अर्थ सिस्टम न्यूमेरिकल सिमुलेटर नाम दिया गया है और यह कंप्यूटर CAS अर्थ सिस्टम मॉडल 1.0' सॉफ्टवेयर पर काम करता है। बता दे की फ़िलहाल मैजिक क्यूब सुपर कंप्यूटर को उत्तरी बीजिंग के होंगग्युआनकून सॉफ्टवेयर पॉर्क में रखा गया है। इसे निर्मित करने में करीब 9 करोड़ यूआन (करीब 1.4 करोड़ अमेरिकी डॉलर) कास खर्च आया है।

इस कंप्यूटर की गणना करने की क्षमता कम से कम एक पेटाफ्लॉप तक है, जिससे यह चीन के 10 सबसे शक्तिशाली कंप्यूटरों में शुमार है। इसमें 5 PB (करीब 50 लाख गीगाबाइट) की डेटा संचयन क्षमता है। सूत्रों के हवाले से मैजिक क्यूब आकार में भविष्य के अर्थ सिम्युलेटर की तुलना में दसवां हिस्सा है, जिसके डिजाइन पर अब भी काम जारी है और वैज्ञानिक इसका उपयोग अंतिम तौर पर उपयोग में लाये जाने वाले सिम्युलेटर के रूप में करेंगे।