चीन दुनिया के सबसे अमीर देश संयुक्त राज्य अमेरिका को पछाड़ देगा

बीजिंग: आंकड़ों के अनुसार, वैश्विक धन पिछले दो दशकों में तीन गुना हो गया है, चीन के साथ जिस तरह से अग्रणी है उससे दुनिया के सबसे धनी देश के रूप में संयुक्त राज्य अमेरिका को पार  कर जायेगा। मैकिंजी एंड कंपनी का विश्लेषण जो दस देशों की राष्ट्रीय बैलेंस शीट का मूल्यांकन करता है यह कंपनी कुल वैश्विक आय का 60 प्रतिशत से अधिक का मूल्यांकन करती है ।

शोध के मुताबिक, चीन ने पिछले दो दशकों में वैश्विक नेटवर्थ लाभ का लगभग एक तिहाई हिस्सा कमाया । ज्यूरिख के मैकिंजी ग्लोबल इंस्टीट्यूट में पार्टनर जन मिचके ने एक इंटरव्यू में कहा, आज हम पहले से ज्यादा अमीर हैं । विश्लेषण के अनुसार, वैश्विक नेटवर्थ 2000 में USD156 ट्रिलियन से बढ़कर 2020 में USD514 ट्रिलियन हो गई। चीन करीब एक तिहाई वृद्धि के लिए जिम्मेदार था ।

अनुसंधान के अनुसार, देश की संपत्ति 2020  में USD7 ट्रिलियन से USD120 ट्रिलियन तक बढ़ गई है । अमेरिका ने आवास की कीमतों में अपेक्षाकृत मध्यम वृद्धि के बावजूद, समय के साथ दोगुने से अधिक अपनी नेटवर्थ को USD90 ट्रिलियन तक देखा।

रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों देशों के सबसे अमीर 10 प्रतिशत परिवार-दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाएं-दो तिहाई से अधिक धन के मालिक हैं, और उनका अनुपात बढ़ रहा है।

17 नवंबर से फिर खुलेगा करतारपुर कॉरिडोर, पंजाब चुनाव से पहले मोदी सरकार का बड़ा फैसला

Special Ops 1.5 Review: देश को बचाने के लिए एक बार फिर होगी हिम्मत सिंह की एंट्री

पंजाब में पंजाबियों को आरक्षण ? चुनाव से पहले बड़ा दांव खेलने की तैयारी में 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -