मसूद अज़हर के बचाव में फिर उतरा चीन, वैश्विक आतंकी मानने से किया इंकार

Mar 14 2019 10:16 AM
मसूद अज़हर के बचाव में फिर उतरा चीन, वैश्विक आतंकी मानने से किया इंकार

नई दिल्ली: पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कराने की भारत की कोशिशों को एक और करारा झटका लगा है। दरअसल, चीन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में उसे अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित करने वाले प्रस्ताव पर तकनीकी रूप से रोक लगा दी है। 

National Institute of Technology में वैकेंसी, वेतन 40 हजार रु

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ''1267 अल कायदा सैंक्शन्स कमेटी'' के तहत अजहर को आतंकी घोषित करने वाले प्रस्ताव को 27 फरवरी को फ्रांस, ब्रिटेन और अमेरिका ने पेश किया था। उल्लेखनीय है कि 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के फिदायीन हमलावर ने सीआरपीएफ के काफिले पर हमला किया था, जिसमें 44 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले के चलते भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव गहरा गया था।

डेस्टिनेशन वेडिंग करना चाहती हैं वरुण की गर्ल फ्रेंड, ऐसा है खास प्लान

समिति के सदस्यों के पास प्रस्ताव पर आपत्ति जताने के लिए 10 कार्य दिवस का समय था। यह अविध बुधवार को (न्यूयॉर्क के) स्थानीय समय दोपहर तीन बजे (भारतीय समयनुसार गुरुवार रात साढ़े 12 बजे) समाप्त होनी थी। संयुक्त राष्ट्र में एक राजनयिक ने जानकारी देते हुए बताया कि समय सीमा समाप्त होने से ठीक पहले चीन ने प्रस्ताव पर 'तकनीकी रोक' लगा दी है। राजनयिक ने कहा है  कि चीन ने प्रस्ताव की पड़ताल करने के लिए और समय मांगा है। यह तकनीकी रोक छह महीनों के लिए वैध रहेगी और इसे तीन महीने के लिए आगे बढ़ाया जा सकता है।

खबरें और भी:-

डॉलर के मुकाबले रुपये में नजर आई 3 पैसे की मजबूती, इस स्तर पर खुला

शुरुआत के साथ ही सेंसेक्स में नजर आयी 150.23 अंकों की मजबूती

फरवरी में बढ़ी खुदरा महंगाई दर, अब 2.57 फीसदी हुई