राष्ट्रपति शी चिनफिंग का बड़ा एलान, कहा- 'चीन में कोरोना वायरस से निपटने के लिए सेना को उतारा'...

राष्ट्रपति शी चिनफिंग का बड़ा एलान, कहा- 'चीन में कोरोना वायरस से निपटने के लिए सेना को उतारा'...

बीजिंग: दिनों दिन बढ़ रहा कोरोना वायरस का कहर आज हर किसी के दिमाग में कोहराम मचा रहा है वहीं चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कोरोना वायरस के प्रकोप को रोकने के मुश्किल काम में सेना को उतार दिया है. अमेरिका और जापान ने कोरोना वायरस के प्रसार का केंद्र माने जा रहे मध्य चीन के वुहान शहर से अपने नागरिकों को निकाला है. वुहान से ही चीन के सभी प्रांतों समेत दुनिया के कई देशों में यह रहस्यमय वायरस पहुंचा है. तिब्बत में भी इस वायरस ने दस्तक दे दी है. चीन में जान गंवाने वालों की संख्या बढ़कर 133 हो गई है.

छह हजार से अधिक लोग संक्रमित, 133 की मौत: जंहा यह भी कहा जा रहा जा रहा है कि संक्रमित लोगों का आंकड़ा भी 6000 को पार कर गया है, जिसमें छह विदेशी भी शामिल हैं. इनमें चार पाकिस्तानी छात्र और दो ऑस्ट्रेलियाई नागरिक शामिल हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने व्यक्ति से व्यक्ति में संक्रमण फैलने पर गंभीर चिंता जताई है और गुरुवार को जेनेवा स्थित अपने मुख्यालय में आपात बैठक बुलाई है. इसमें वैश्विक आपात स्थिति एलान किया जाना चाहिए. वहीं सेना ने हजारों मेडिकल कर्मियों को बचाव में उतारा जंहा मेडिकल रिपोर्ट्स के प्रमुख राष्ट्रपति शी ने सेना से अपने उद्देश्य को दृढ़ता से मन में रखने और कोरोना वायरस के खिलाफ जंग जीतने में योगदान देने की मुश्किल जिम्मेदारी उठाने को कहा है. शी कोरोना वायरस को दानव करार दे चुके हैं. वहीं, पीएलए ने वुहान में अपने हजारों मेडिकल कर्मियों को इस वायरस से संक्रमित लोगों को बचाने के कार्य में लगाया है, ताकि चिकित्सकों की मदद की जा सके. यह शहर इस वायरस से सर्वाधिक प्रभावित हुआ है.

चीन से उड़ानें बंद करने पर विचार कर रहा अमेरिका: जंहा इस बात का पता चला है कि जापानी एयरलाइंस का एक चार्टर्ड विमान 206 यात्रियों को लेकर बीते बुधवार यानी 29 जनवरी 2020 को वुहान से टोक्यो पहुंचा. जबकि, वाशिंगटन में अमेरिका के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 240 लोगों को लेकर एक अमेरिकी चार्टर्ड विमान वुहान से रवाना हुआ है. इन लोगों में करीब 50 अमेरिकी राजनयिक हैं. जंहा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि उन्होंने शी से बात की है और इस वायरस को रोकने के लिए उनकी सरकार चीन के साथ मिलकर काम कर रही है. ह्वाइट हाउस चीन से उड़ानें बंद करने भी विचार कर रहा है. ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने कहा है कि वुहान से निकलने में नागरिकों की मदद की जाएगी.

पाकिस्तानी अदालत ने इस पश्तून समुदाय नेता की जमानत याचिका कर दी खारिज

प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की मुश्किले बड़ी, भ्रष्टाचार मामले में आरोपी घोषित

पाकिस्तानी पर इस देश ने अचानक किया हमला, दनादन दागे तोप के गोले