आखिर पकड़ा गया चीन का झूठ, 84 हज़ार नहीं 6 लाख लोग थे कोरोना से संक्रमित

बीजिंग: चीन कोरोना वायरस के मामलों की वास्तविक आंकड़ा छिपा रहा है, यह सवाल पिछले दो-तीन महीनों में कई दफा उठा है, पर इसे लेकर कोई पुख्ता प्रमाण नहीं मिले थे. लेकिन अब एक ताजा खुलासे में कहा गया है कि चीन में 84 हजार नहीं बल्कि 6.4 लाख लोग कोरोना वायरस से ग्रसित थे. इस बारे में जानकारी देने वाली रिपोर्ट मिलिट्री के नेतृत्व में चलने वाली नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ डिफेंस टेक्नोलॉजी से लीक हुई है. 

इस डाटा से यह भी पता चला है कि चीन के 230 शहर संक्रमण की चपेट में थे. इस डाटा के अनुसार, चीन में कोरोना के चरम के दौरान मरीजों की तादाद 6.4 लाख तक थी. हालांकि, चीन ने आधिकारिक रूप से 84029 मामलों की बात ही कही है. इस लीक डाटा में देश के 230 शहरों के 6.4 लाख लोगों का ब्यौरा मौजूद है. प्रत्येक एंट्री में कन्फर्म मामले, तारीख स्थान दर्ज हैं, जो कि फरवरी की शुरुआत से लेकर अप्रैल आखिर तक के हैं.

इस डाटा में, लोकेशन में अस्पताल, रिहायशी अपार्टमेंट, होटल, सुपरमार्केट, रेलवे स्टेशन, रेस्तरां, स्कूल यहां तक कि फास्टफूड चेन की ब्रांच तक का नाम दर्ज है. माना जा रहा है कि प्रत्येक एंट्री कम से कम एक मामले से जुड़ी हुई है, जिसका साफ मतलब है कि देश में कम से कम 6.4 लाख लोग कोरोना वायरस से पीड़ित थे.

100 प्रतिशत ठीक हो जाएगा कोरोना, दवा खोजने वाली अमेरिकी कंपनी का दावा

स्टीव लिनिक को बर्खास्त करने पर मचा बवाल, इन्हें मिला जांच का जिम्मा

डोनाल्ड ट्रम्प का ऐलान- कोरोना की वैक्सीन बने या ना बने, जल्द खुलेगा अमेरिका

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -