भारत को घेरने के लिए चीन का नया पैंतरा, हिंद महासागर में बना रहा कृत्रिम द्वीप

नई दिल्ली: इस समय जहां पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही है। वहीं चीन भारत से 684 किलोमीटर की दूरी पर एक कृत्रिम द्वीप का निर्माण करने में लगा हुआ है। चीन साउथ चाइना सी की तर्ज पर हिंद महासागर में नया द्वीप बनाकर भारत के समक्ष सीधे तौर पर सामरिक चुनौती पेश कर रहा है। इसका खुलासा हाल ही में सैटेलाइट तस्वीरों के माध्यम से हुआ है। इन तस्वीरों को ओपन सोर्स इंटेलीजेंस एनॉलिस्ट डेटरेसफा ने रिलीज़ किया है।

मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने 2016 में अपने शासन के दौरान चीनी कंपनियों को अपने देश के 16 द्वीप लीज पर दिए थे। इन द्वीपों पर चीन बड़े स्तर पर निर्माण कार्य कर रहा है। विशेषज्ञों के मुताबिक इस द्वीपों में चीन द्वारा इतने बड़े स्तर पर निवेश करने के पीछे भारत को घेरने की कोशिश है। कई देशों को चीन ने कर्ज के जाल में फंसाया है हथियारों की खरीद फरोख्त पर निगाह रखने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था सिपरी (CIPRI) के न्यूक्लियर इंफोर्मेशन प्रोजक्ट के डायरेक्टर हेंस क्रिस्टेंसन ने ट्वीट करते हुए कहा है कि मालदीव के फेढू फिनोलु द्वीप को मालदीव की यामीन सरकार ने चीन को चार मिलियन डॉलर में लीज पर दिया गया था।

उन्होंने कहा कि अब चीन यहां साउथ चाइना सी की तर्ज पर बेल्ट एंड रोड एनिशिएटिव के तहत भारत को घेरने की साजिश कर रहा है। चीन ने हिंद महासागर में स्थित कई देशों को अपने कर्ज के जाल में उलझाया हुआ है।

हिजबुल मुजाहिद्दीन : आखिर कौन है डॉक्‍टर सैफ ?

ममता बनर्जी को मिला पत्र, जानलेवा कोरोना को लेकर लिखी थी यह बात

मरीजों की सेवा में जुटी हुई है नौ माह की गर्भवती महिला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -