भारत के खिलाफ तिब्बती जवानों को उतारने की तैयारी, चीन ने LAC पर शुरू की ट्रेनिंग

नई दिल्ली: भारत के साथ लद्दाख बॉर्डर पर जारी टकराव के बीच चीनी आर्मी अब तिब्बती इलाके से आने वाले जवानों को प्रशिक्षण देने में जुटी हुई है. इनका प्रशिक्षण भारत के साथ सटी लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) की स्थिति को देखते हुए की जा रही है. सूत्रों के अनुसार, खुफिया एजेंसियों के पास ये सूचना है कि चीनी सेना तिब्बती युवाओं को भर्ती करने में लगी हुई है, ताकि उनका इस्तेमाल LAC पर किया जा सके. इन तिब्बती युवाओं को कई टेस्ट देने के बाद ही सेना में लिया जा रहा है. 

इन टेस्टों में चीनी भाषा को सीखना, चीन की कम्युनिस्ट पार्टी को सर्वोच्च मानना अनिवार्य किया गया है. सूत्रों के अनुसार, इन युवाओं से कहा गया कि पार्टी के नियमों को सभी से ऊपर मानें, फिर चाहे वो उनके अपने गुरु दलाई लामा ही क्यों ना हों. इंडियन आर्मी में जिस तरह तिब्बती जवानों ने पहाड़ी इलाकों में महवपूर्ण भूमिका निभाई है, उसी को देखते हुए चीन ने इसी वर्ष जनवरी-फरवरी में इन युवाओं को भर्ती करना आरंभ कर दिया है. बता दें कि गत वर्ष जब पैंगोंग लेक के आसपास भारत और चीन की आर्मी आमने-सामने आई थीं, तब भारतीय बेड़े में शामिल स्पेशल फ्रंटियर फोर्स के तिब्बती जवानों ने चीन को मात दी थी.  

बता दें कि भारत और चीन के बीच अप्रैल-मई 2020 से ही तनाव की स्थिति बनी हुई है. दोनों देशों के जवानों में इस दौरान लद्दाख बॉर्डर पर कई बार भिड़ंत भी हुई, जबकि दोनों देशों की तरफ से सैन्य और कूटनीतिक स्तर पर बातचीत भी की गई. हालांकि, अभी तक इसका कोई ठोस समाधान नहीं निकला है.  

पुणे: शुरू हुआ यौनकर्मियों के लिए एक विशेष टीकाकरण अभियान

खुशखबरी! 8500 रुपये तक सस्ता हुआ सोना! 700 रुपये टूटी चांदी

कोरोना लॉकडाउन के बाद खुले इस मंदिर में महज 10 दिन में आया 3.12 करोड़ का चढ़ावा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -