चीन गुपचुप तरीके से विवादित, आइलैंड पर बना रहा हवाई पट्टी

बीजिंग : अमेरिका के वॉशिंगटन स्थित सेंटर फॉर स्ट्रैटेजिक एंड इंटरनेशनल स्टडीज ने अपने एक खुलासे के तहत तस्वीर जारी करते हुए कहा है की चीन अपने तीसरे आर्टिफिशियल आइलैंड पर एयरस्ट्रिप 'हवाईपट्टी' बना रहा है। व जानकारों का कहना है की चीन इस जगह पर अपनी मिलिट्री स्ट्रेंथ की ताकत को और प्रगाढ़ तरीके से बढ़ा रहा है. व दक्षिण चीन सागर की नई सैटेलाइट इमेजेस से यह बात का पता चला है.

आगे कहा की चीन दक्षिण चीन सागर में स्थित विवादित स्पार्टली आइलैंड के मिसचीफ रीफ और सबी रीफ को मिलाकर एक एयरफील्ड तैयार कर रहा है. यह मिसचीफ रीफ पर बनाई जा रही एयरस्ट्रिप फिलीपींस मिलिट्री बेस से महज 32 किलोमीटर दूर है। यह एक छोटे आइलैंड पर बनाई जा रही है। एयरस्ट्रिप का इस्तेमाल टर्बोप्रोपेलर इंजन वाले प्लेन की लैंडिंग के लिए किया जाएगा, व देखा जाए तो चीन इसे एक बहुत बड़े मिलिट्री एक्शन के लिए तैयार रखेगा. ताकि इससे ज्यादा दुरी के टारगेट्स पर सतर्कता व प्रभावी ढंग से नजर रखी जा सके, चीन यहां पर वार्निंग रडार भी स्थापित कर सकता है. 

चीन पूर्व में फेरी क्रॉस आइलैंड पर 10,000 फीट लंबा रनवे का निर्माण कर चूका है। यह आइलैंड भी पांच विवादित आइलैंड्स में से एक है। इस साल अप्रैल में सामने आई सैटेलाइट इमेजेस में इसका खुलासा हुआ था। तथा इस पर अमेरिका का पहले भी चीन से विवाद हो चूका है. व अमेरिका ने चीन से कहा है की वह दक्षिण चीन सागर के विवादित क्षेत्र में कंस्ट्रक्शन न करे. क्योंकि यह आइलैंड भी पांच विवादित आइलैंड्स में से एक है, व चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग द्वारा अगले हफ्ते होने वाले अमेरिकी दौरे पर इस विवादित मामले पर चर्चा होने के आसार है.  

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -