कोरोना का बढ़ा कहर तो सहमी दुनिया, चीन बोला- देश न छोड़ें नागरिक

कोरोना का बढ़ा कहर तो सहमी दुनिया, चीन बोला- देश न छोड़ें नागरिक

बीजिंग: एकाएक तेजी से फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए विदेशी एयरलाइंस ने चीन से आने जाने वाली फ्लाइटों को निलंबित करने की घोषणा की है . जंहा विदेशी एयरलाइनों की ओर से उक्‍त घोषणाएं मुख्‍तलिफ मुल्‍कों द्वारा वुहान में फंसे अपने नागरिकों एयरलिफ्ट करने की तैयारियों के बाद सामने आई हैं. जानकारी के मुताबिक, वुहान पूरी दुनिया से अलग थलग पड़ चुका हैं और यहां एक करोड़ 10 लाख लोग कोरोना वायरस के खतरे के बीच रह रहे हैं. वहीं यह भी पता चला है कि वुहान में इस वायरस के खतरे के चलते हेल्‍थ इमरजेंसी जारी है.

जंहा अमेरिका, ब्रिटेन और जर्मनी ने हाल ही में अपने नागरिकों के लिए एडवाइजरी जारी करके चीन की यात्रा से परहेज करने की सलाह दी गई है कि  चीन अपने नागरिकों से विदेशों की यात्राएं नहीं करने की गुजारिश करें. वहीं इन तमाम कवायदों के बावजूद यह घातक वायरस दुनिया के 15 देशों में अपनी मौजूदगी दर्ज करा चुका है. इन देशों ने इस वायरस से संक्रमित मरीजों को अलग-थलग रखते हुए उनका इलाज जारी रखा है. चीन में इस वायरस के संक्रमण के कारण 132 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि लगभग 6000 लोग संक्रमित हैं. जंहा इस बात पर  गौर किया जा रहा है कि वैश्‍व‍िक तौर पर देखें तो ब्रिटिश एयरवेज दुनिया की पहली बड़ी एयरलाइन है जिसने चीन आने जाने वाली अपनी फ्लाइटें निलंबित की हैं. ब्रिटिश एयरवेज ने बुधवार को कहा कि उसने कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर चीन से आने और जाने वाली अपनी सभी उड़ानें निलंबित कर दी हैं. बयान में बताया गया है कि ब्रिटेन के विदेश मंत्रालय की सलाह के बाद यह कदम उठाया गया है. मालूम हो कि ब्रिटिश एयरवेज के विमान शंघाई और बीजिंग के लिए लंदन के हीथ्रो हवाईअड्डे से नियमित रूप से उड़ान भरते हैं.

वहीं यह भी बता दें कि म्‍यांमार की तीन एयरलाइनों ने शनिवार से ही चीन आने जाने वाली अपनी फ्लाइटें निलंबित कर दी हैं. पापुआ न्यू गिनी ने भी एहतियाती तौर पर एशिया से आने वाले सभी विदेशी यात्रियों के लिए अपने हवाईअड्डे और बंदरगाह बंद कर दिए हैं. एयरलाइनों और नौका संचालकों को भेजे गए संदेश में सरकार की ओर से कहा गया है कि एशियाई हवाईअड्डों और बंदरगाहों से आने वाले सभी लोगों को बुधवार से देश में प्रवेश नहीं दिया जाएगा. यही नहीं कैथे पैसिफिक Cathay Pacific ने भी चीन जाने वाली फ्लाइटों का संचालन रोक दिया है. वहीं भारत की इंडिगो और एयर इंडिया ने भी अपनी कुछ फ्लाइटें निलंबित की हैं. 

राष्ट्रपति शी चिनफिंग का बड़ा एलान, कहा- 'चीन में कोरोना वायरस से निपटने के लिए सेना को उतारा'...

यूरोपीय संसद में बढ़ा CAA का प्रभाव, विरोधी प्रस्ताव पर मतदान टला

पाकिस्तानी अदालत ने इस पश्तून समुदाय नेता की जमानत याचिका कर दी खारिज