कश्मीर मुद्दे को लेकर पाक ने जोड़े चीन के हाथ, लेकिन पुराने दोस्त ने भी छोड़ दिया साथ

Aug 09 2019 02:25 PM
कश्मीर मुद्दे को लेकर पाक ने जोड़े चीन के हाथ, लेकिन पुराने दोस्त ने भी छोड़ दिया साथ

बीजिंग: जम्‍मू कश्‍मीर से भारत द्वारा धारा 370 हटाए जाने से बौखलाया पाकिस्‍तान अब अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय के आगे हाथ फैलाते फिर रहा है, किन्तु उसे हर जगह से मायूसी ही हाथ लग रही है. इस मुद्दे पर विचार-विमर्श करने के लिए शुक्रवार को चीन गए पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी को चीन ने नसीहत देते हुए कहा है कि पाकिस्‍तान कश्‍मीर पर तनाव को बढ़ाने से बचे और वह भारत के साथ अपने रिश्तों को और खराब न करे.

दरअसल, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा प्रदान करने वाली संविधान की धारा 370 को रद्द करने के भारत के फैसले पर चीनी नेतृत्व के साथ विचार-विमर्श करने के लिए चीन के दौरे पर गए हुए हैं. शुक्रवार सुबह बीजिंग के लिए रवाना होने से पहले कुरैशी ने कहा था कि, "भारत अपने असंवैधानिक तौर-तरीकों से क्षेत्रीय शांति को बाधित करने पर उतारू है."

कुरैशी ने कहा था कि, "चीन न सिर्फ पाकिस्तान का मित्र है, बल्कि क्षेत्र का एक बड़ा देश भी है. वह स्थिति पर चीन के नेतृत्व को भरोसे में लेंगे". इस दौरान कुरैशी के साथ विदेश सचिव सोहेल महमूद और अन्‍य उच्च अधिकारी भी मौजूद थे. आपको बता दें कि भारत सरकार ने सोमवार को जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाली संविधान की धारा 370 को कमज़ोर कर दिया है.

जानिए 15 अगस्त का इतिहास, भारत की आजादी से लेकर इतना कुछ हुआ इस दिन

विश्व आदिवासी दिवस: क्या आदिवासियों को मिल रहे हैं वो अधिकार, जिनके हैं वे हक़दार

कश्मीर मुद्दे पर पाक को UNSC से झटका, अमेरिका ने भी नहीं दिया भाव