डेंगू से गई बच्चे की जान, इलाज न मिलने से दुखी परिजन ने की आत्महत्या

Sep 12 2015 11:52 AM
डेंगू से गई बच्चे की जान, इलाज न मिलने से दुखी परिजन ने की आत्महत्या

नई दिल्ली : देशभर में मौसम में आए बदलाव का असर लोगों के स्वास्थ्य पर पड़ रहा है। इस दौरान दिल्ली में अस्पताल मरीजों से पटे हुए हैं। डेंगू के कारण दिल्ली में 7 वर्षीय बच्चे को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा। इसके बाद उसके माता पिता ने भी दुखी होकर अपनी जान दे दी। मिली जानकारी के अनुसार ओडिशा निवासी लक्ष्मीचंद्र और बबीता के पुत्र अविनाश की तबियत डेंगू के कारण खराब हो गई। उपचार के लिए परिजन अविनाश को अस्पताल लेकर पहुंचे। मगर बेड खाली न होने से उन्हें उपचार नहीं मिला।

इसके बाद वे रात में बच्चे को लेकर बत्रा अस्पताल पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। बेटे की मौत से परिजन दुखी हो गए और लक्ष्मीचंद्र और बबीता ने आत्महत्या कर ली। दोनों द्वारा छतरपुर में बेटे का अंतिम संस्कार करने के बाद आत्महत्या कर ली। दोनों के शवों के पास से सुसाईड नोट मिला जिसमें किसी को दोषी न ठहराने की बात लिखी गई थी।