अंशु प्रकाश मामला: केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ीं, दिल्ली हाई कोर्ट ने भेजा समन

Sep 18 2018 01:31 PM
अंशु प्रकाश मामला: केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ीं, दिल्ली हाई कोर्ट ने भेजा समन

नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने मंगलवार को दिल्ली के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश पर कथित हमले के मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और 11 अन्य विधायकों को आरोपी के रूप में बुलावा दिया है. अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट समर विशाल ने आरोपपत्र के अनुसार मामले का संज्ञान लेने के बाद एक आरोपी को छोड़ बाकि सबको 25 अक्टूबर को अदालत में पेश होने के निर्देश जारी किए हैं.

पीएम मोदी आज वाराणसी को रिटर्न गिफ्ट में देंगे 557 करोड़ रुपए

कथित हमला केजरीवाल के निवास पर 19 फरवरी और 20 फरवरी की मध्यरात्रि को किया गया था, जब प्रकाश को एक बैठक के लिए बुलाया गया था. जिसके बाद प्रकाश ने आरोप लगाया था कि उनपर आम आदमी पार्टी के विधायकों ने हमला किया था. 1,300 पेज की चार्जशीट में, पुलिस ने कथित हमले में प्रत्येक व्यक्ति की भूमिका निर्दिष्ट नहीं की है, लेकिन केजरीवाल और सिसोदिया के खिलाफ 13 धाराओं में मामला दर्ज किया गया है.

पीएम मोदी से मिलने के लिए महिला ने 13 हजार फीट से लगाई छलांग

बताया जा रहा है कि मारपीट मामले में पुलिस ने सबूतों के आधार पर जिस तरीके से मजबूत चार्जशीट तैयार की है, वह केजरीवाल सरकार के लिए गले की फांस बन सकती है. वहीं पार्टी ने इस आरोप को बोगस बताया है, पार्टी ने आरोप लगाया है कि यह 'आप' को बदमान करने के लिए भारतीय जनता पार्टी द्वारा की गई साजिश है. 

खबरें और भी:-​

JNU : चुनाव नतीजों के बाद हिंसा भड़की, पार्टियों ने लगाया एक-दूसरे पर आरोप

सत्ता किसको मिलेगी इससे RSS को कोई मतलब नहीं : मोहन भागवत

पैरोल हुई खत्म फिर जेल पहुंचे नवाज़ शरीफ