छत्तीसगढ़: SP की शहादत को हो गए 10 साल, लेकिन अब भी अनोखी श्रद्धांजलि दे रही प्रदेश पुलिस

Jul 12 2019 12:33 PM
छत्तीसगढ़: SP की शहादत को हो गए 10 साल, लेकिन अब भी अनोखी श्रद्धांजलि दे रही प्रदेश पुलिस

रायपुर: छत्तीसगढ़ में एक पुलिस अधीक्षक की शहादत को गत 10 वर्षों से अनोखे तरह से सम्मान दिया जा रहा है। नक्सली हमले में पुलिस अधीक्षक के शहीद होने के 10 वर्ष बाद भी उनकी सेवा में 6 जवान तैनात है, जवानों को गाड़ी और बंगले की सुविधा मिल रही है। छत्तीसगढ़ पुलिस महकमा गत 10 वर्षों से पुलिस अधीक्षक को ये अनूठी श्रद्धांजलि दे रहा है।

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ के नक्सल अभियान में देश के पहले शहीद पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार चौबे को मरणोपरांत कीर्ति चक्र से सम्मानित किया गया था। विनोद कुमार ने राजनांदगांव के पुलिस कप्तान रहने के दौरान अपनी टीम का नेतृत्व करते हुए 12 जुलाई 2009 को नक्सल मोर्चे से मुठभेड़ के दौरान शहीद हो गए थे। ऐसे में छत्तीसगढ़ पुलिस ने उस कहावत को चरितार्थ कर दिखाया है जिसमें कहा जाता है कि 'न शहादत बेकार जाती है और ना ही कभी शहीद मरा करते हैं'।

दरअसल, 10 वर्ष पूर्व राजनांदगांव जिले के घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्र मदनवाड़ा कोरकोट्‌टी में पुलिस अधीक्षक वीके चौबे ने एक नक्सली हमले में अपनी जान गंवा दी थी। देश में ये प्रथम नक्सली हमला था, जिसमें कोई पुलिस अधीक्षक शहीद हुआ था। इस नक्सल हमले में 29 अन्य जवान भी शहीद हुए थे। छत्तीसगढ़ पुलिस ने एसपी के शहादत के 10 वर्ष गुजर जाने के बाद भी उनके रुतबे और मान को कायम रखा है। 

CCTV कैमरे में कैद हुआ BSF के ASI का जुर्म, दिल्ली एयरपोर्ट से हुआ गिरफ्तार

वर्ल्ड कप: भारत में ही मना टीम इंडिया की हार का जश्न, लगे राष्ट्र विरोधी नारे

उत्तर प्रदेश: आपस में भिड़ीं रोडवेज की दो बसें, तीन की मौत कई घायल