कुटुंब न्यायालय ने पत्नी को गुजरा भत्ता देने के लिए कहा, तो पांच बोरी सिक्के लेकर पहुँच गया पति

Jul 20 2019 01:56 PM
कुटुंब न्यायालय ने पत्नी को गुजरा भत्ता देने के लिए कहा, तो पांच बोरी सिक्के लेकर पहुँच गया पति

रायपुर: छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में एक शख्स कुटुंब न्यायालय के निर्णय के बाद अपनी पत्नी को भरण-पोषण की राशि देने के लिए 5 बोरियों में 33 हजार 800 के सिक्के लेकर पहुंचा, इन बोरियों में एक, दो और 5, 10 के सिक्के भरे हुए थे. इन सिक्को का वजन तक़रीबन 1 क्विंटल था. ऐसे में न्यायाधीश ने जैसे ही युवक द्वारा बोरियों में लाए सिक्के देखे, तो उन्होंने इसे पत्नी को प्रताड़ित करने का तरीका बताया और युवक से कहा कि वह खुद ही इन सिक्कों की गिनती करेगा और पत्नी तक पहुंचाएगा.

यही नहीं न्यायाधीश ने पैसे पहुंचने के बाद मिली पावती को अदालत में जमा करने के निर्देश भी दिए हैं. आपको बता दें कि शख्स ने केवल पत्नी ही नहीं बल्कि वकील की फीस भी सिक्कों के रूप में अदा की है. यह पूरा मामला कुटुंब अदालत जांजगीर का है, जहां युवक को पत्नी का भरण-पोषण करने के लिए अदालत ने रुपये अदा करने के लिए कहा था, जिस पर युवक 5 बोरियों में सिक्के लेकर न्यायालय पहुंच गया.

दरअसल, पामगढ़ थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले कोसला गांव के पूनी राम साहू की शादी नवागढ़ थाना क्षेत्र की यशोधरा साहू के साथ हुई थी दोनों की 4 बेटियां हैं, जिसमे से तीन की शादी हो चुकी है. पति पत्नी विवाद होने के बाद लगभग 20 वर्ष पूर्व अलग हो गए थे. इस बीच का मामला परिवार परामर्श केंद्र में चला गया.

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने स्वीकार किया सिद्धू का इस्तीफा, कई दिनों से था मतभेद

NIA की बड़ी कामयाबी, तमिल नाडु से गिरफ्तार किए 16 संदिग्ध आतंकी

रक्षा मंत्री आज जम्मू कश्मीर के दौरे पर