छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री ने 5 हजार लैपटॉप बांटे

Apr 23 2015 11:20 PM
छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री ने 5 हजार लैपटॉप बांटे
छत्तीसगढ़ / रायपुर : छत्तीसगढ़ में लोक सुराज अभियान के तहत गुरुवार को रायपुर जिले के लगभग पांच हजार इंजीनियरिंग छात्र-छात्राओं को मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के हाथों नि:शुल्क लैपटॉप की सौगात मिली। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ युवा सूचना क्रांति योजना के तहत यहां बूढ़ा तालाब के सामने स्थित इंडोर स्टेडियम में 19 इंजीनियरिंग कॉेलेजों के अंतिम वर्ष के चार हजार 800 छात्र-छात्राओं को लैपटॉप का वितरण किया। 

समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि लैपटॉप सूचना प्रौद्योगिकी का ऐसा उपकरण है, जो नागरिकों के साथ-साथ विद्यार्थियों को भी इंटरनेट के जरिए आईटी की दुनिया से जोड़ता है। विद्यार्थी और आईटी दुनिया के मध्य यह एक महत्वपूर्ण कड़ी है। उनकी शिक्षा के लिए और ज्ञान-विज्ञान के संसार से जुड़ने के लिए यह एक महत्वपूर्ण औजार है। 

लैपटॉप रखना आज के युवाओं के लिए फैशन नहीं, बल्कि ज्ञान के भंडार को बढ़ाने के लिए एक बड़ी बुनियादी जरूरत है। डॉ. सिंह राजधानी रायपुर के इंडोर स्टेडियम में छत्तीसगढ़ युवा सूचना क्रांति योजना के तहत रायपुर जिले के विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों के अंतिम वर्ष के लगभग पांच हजार विद्यार्थियों को नि:शुल्क लैपटॉप वितरित करते हुए इस आशय के विचार व्यक्त किए। 

समारोह की अध्यक्षता कृषि एवं जल संसाधन मंत्री श्री बृजमोहन अग्रवाल ने की। समारोह में विधायक द्वय श्रीचंद सुंदरानी और नवीन मार्कण्डेय और रायपुर नगर निगम के सभापति प्रफुल्ल विश्वकर्मा विशेष अतिथि के रूप में उपस्थित थे। मुख्य अतिथि की आसंदी से मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने समारोह में कहा कि लैपटॉप के जरिए हमारे युवा अपने ज्ञान के भंडार को बढ़ा सकते हैं। 

लैपटॉप रखना आज युवाओं के लिए फैशन नहीं, बल्कि हर उनके भविष्य निर्माण के लिए बुनियादी जरूरत है। इसलिए छत्तीसगढ़ सरकार ने युवाओं को नए जमाने के अनुरूप सूचना प्रौद्योगिकी से संबंधित सुविधाओं से जोड़ने के लिए लैपटॉप-टैबलेट उपलब्ध करा रही है। डॉ. सिंह ने कहा कि सूचना प्रौद्योगिकी ने वास्तव में दूरियों को कम करने के साथ ही हर व्यक्तियों के हाथ और उंगलियों में इतनी ताकत दी है कि वह जहां चाहे, वहां से अपनी आवाज बुलंद कर सकता है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि आने वाला समय छत्तीसगढ़ का है और विशेषकर युवाओं का है। ये युवा अपनी पूरी क्षमता और ताकत का उपयोग कर देश-दुनिया में अपना नाम रौशन करेंगे। डॉ. सिंह ने छत्तीसगढ़ युवा सूचना क्रांति योजना से लाभान्वित सभी युवाओं को बधाई और शुभकामनाएं दी। समारोह की अध्यक्षता करते हुए कृषि एवं जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में सूचना प्रौद्योगिकी का बेहतर इस्तेमाल केवल शहरों और कॉलेजों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि गांवों में अच्छा उपयोग हो रहा है। 

उन्होंने कहा कि राज्य के ग्राम पंचायतों को ई-पुरस्कार से नवाजा जा रहा है। यह हमारे सभी ग्राम पंचायतों और उनके प्रतिनिधियों का सम्मान है। उन्होंने सभी लोगों को आईटी का उपयोग कर छत्तीसगढ़ के विकास में योगदान देने का अनुरोध किया। चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सौरव कुमार ने बताया कि छत्तीसगढ़ युवा सूचना क्रांति योजना के तहत वितरित लैपटॉप उच्च गुणवत्ता वाला उपकरण है। इसमें प्रोसेसर (सीपीयू) दो से बढ़ाकर चार कोर के साथ ही इसका रैम दो जीबी क्षमता का है। 

लैपटॉप की हार्डडिस्क 500 जीबी, विंडोज 8.1 और स्क्रीन साइज 15.5 इंच लंबाई की है। रायपुर-दुर्ग संभाग के आयुक्त और छत्तीसगढ़ राज्य विवेकानंद तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति अशोक अग्रवाल ने स्वागत भाषण में कहा कि लैपटॉप के जरिए हमारे युवा नौकरी और रोजगार की तलाश में मदद मिलेगी। रायपुर के कलेक्टर ठाकुर राम सिंह, पुलिस अधीक्षक ओ.पी. पाल और नगर निगम आयुक्त सारांश मित्तर इस अवसर पर उपस्थित थे।