दिल्ली में इस तरह से होगी छठ पूजा, DDMA ने लिया बड़ा फैसला

नई दिल्ली: लोक आस्था का महापर्व छठ पूजा इस बार बहुत अलग तरीके से मनाया जाने वाला है। जी हाँ, इस पर्व को आने में अब कुछ ही दिन शेष हैं ऐसे में इसे लेकर तैयारियां भी शुरू हो गईं हैं। यह पर्व हर साल बहुत धूमधाम से मनाया जाता है लेकिन इस साल यह पर्व अपनी रौनक छोड़ने में फीका पड़ने वाला है। बताया जा रहा है इस साल छठ पूजा का आयोजन सार्वजनिक स्थलों पर नहीं किया जाएगा।

जी हाँ, 4 दिन का यह पर्व बिहार, झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश में लाखों लोगों द्वारा मनाया जाता है लेकिन इस बार इस पर्व को सार्वजनिक स्थानों पर नहीं मनाया जाने वाला है। मिली जानकारी के मुताबिक कोरोना के मौजूदा हालातों का हवाला देते हुए डीडीएमए ने दिल्ली सरकार की ओर से छठ पूजा के आयोजन के लिए भेजे गए प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। जी दरअसल डीडीएमए ने दिल्ली सरकार के प्रस्ताव को इसलिए खारिज किया क्योंकि केंद्र सरकार की तरफ से अभी तक स्वीमिंग पूल खोलने के निर्देश नहीं दिए गए हैं। वहीं कोरोना के मामले भी दिन पर दिन बढ़ते चले जा रहे हैं।

हाल ही में राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा, ‘इस साल छठ पूजा का आयोजन सार्वजनिक स्थलों पर नही किया जाएगा, हालांकि भक्त अपने-अपने घरों में या किसी निजी स्थल पर इस पर्व को कोविड-19 दिशानिर्देशों का पालन करते हुए मना सकते हैं’। वैसे आप जानते ही होंगे इस साल छठ महापर्व 18 नवंबर से 20 नवंबर तक मनाया जाने वाला है।

नीतीश की जीत से खुश नहीं है शिवसेना, सामना में जमकर कसे तंज

'यदि हम एक न्यायालय के रूप में संवैधानिक स्वतंत्रता की रक्षा नहीं करेंगे, तो कौन करेगा: SC

भारत में शुरू हुई कोरोना वैक्सीन देने के लिए स्वास्थ्यकर्मियों की लिस्टिंग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -