चारधाम यात्रा आज से शुरू, खुलेंगे मंदिरों के कपाट

Apr 21 2015 12:50 PM
चारधाम यात्रा आज से शुरू, खुलेंगे मंदिरों के कपाट
्तराखंड/देहरादून : अक्षय तृतीया के सुअवसर पर गंगोत्री ओर यमुनोत्री मंदिरों के कपाट खुल चुके है और इसके साथ ही इस वर्ष की हिमालय की चारधाम यात्रा भी शुरू हो रही है। वर्ष 2013 की भीषण आपदा के बाद तीर्थयात्रियों का रूख दोबारा प्रदेश की ओर करने के प्रयास में जुटी राज्य सरकार ने उंची चोटियों पर हिमपात और निचले क्षेत्रों में बारिश होने से बार-बार मौसम में आ रहे बदलाव के बावजूद चारधाम यात्रा की तैयारियों को लेकर पूरी व्यवस्था चाक-चौबंद होने का दावा किया है। 


उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रावत और प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारी व्यवस्था प्रणाली का समीक्षा लेने के लिए खुद केदारनाथ और बदरीनाथ सहित अन्य जगहों का दौरा कर रहे हैं। गंगोत्री मंदिर समिति के सचिव सुरेश सेमवाल ने बताया कि आज दोपहर साढ़े बारह बजे कर्क लग्न में मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के लिये खोल दिये जाएंगे। उत्तरकाशी जिले में स्थित दूसरे प्रमुख धाम यमुनोत्री के कपाट भी आज सुबह 11 बजकर 30 मिनट पर खोले जाएंगे। उत्तराखंड के गढ़वाल हिमालय में स्थित चारधामों के नाम से विश्व प्रसिद्ध दो अन्य धामों, केदारनाथ और बदरीनाथ के कपाट भी क्रमश: 24 अप्रैल को प्रात: साढ़े आठ बजे और 26 अप्रैल को प्रात: पांच बज कर पंद्रह मिनट पर खोले जाएंगे। 

केदारनाथ धाम रूद्रप्रयाग जिले में है और बद्रीनाथ धाम चमोली जिले में स्थित है इसके साथ ही चारों धाम दस हजार फीट से ज्यादा की उंचाई पर स्थित होने के कारण सर्दियों में भारी बर्फबारी और भीषण ठंड की चपेट में रहते हैं और इस कारण उन्हें हर वर्ष अक्तूबर-नवंबर में श्रद्घालुओं के लिए बंद कर दिया जाता है।