PPF अकाउंट वालों के ल‍िए आई बड़ी खबर, जरूर पढ़ ले

छोटी बचत स्कीमों में न‍िवेश करने के ल‍िए पब्‍ल‍िक प्रोव‍िडेंट फंड (PPF) अच्‍छा विकल्प है। यहां आप कम रुपये से आरम्भ करके वर्ष में अध‍िकतम डेढ़ लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं। यहां आपका रुपया पूरी तरह से सुरक्ष‍ित है। सरकार की ओर से बीते द‍िनों PPF पर ब्‍याज दर को 7.10 फीसदी पर ही कायम रखा गया है। किन्तु बीते कुछ वर्षों में सरकार ने इसके न‍ियमों में परिवर्तन क‍िया है। 

जानिए इन बदलावों के बारे में:-
PPF अकाउंट में न‍िवेश 50 रुपये के मल्‍टीपल में होना आवश्यक है। यह रकम सालाना कम से कम 500 रुपये या उससे अधिक होनी चाह‍िए। मगर PPF अकाउंट में आप पूरे फाइनेंश‍ियल ईयर में डेढ़ लाख तक जमा कर सकते हैं। इस पर ही आपको टैक्‍स छूट का लाभ प्राप्त होता है। इसके अतिरिक्त महीने में एक ही बार PPF अकाउंट में पैसा जमा कर सकते हैं। आप PPF अकाउंट में मौजूद बैलेंस पर लोन भी ले सकते हैं। बीते द‍िनों यह ब्‍याज दर 2 फीसदी से घटाकर 1 फीसदी कर दी गई है। कर्ज की मूल राशि का भुगतान करने के पश्चात् आपको दो से अधिक किस्तों में ब्याज चुकाना होगा। ब्याज की गणना प्रत्येक महीने की पहली दिनांक को होती है।

15 वर्षों तक न‍िवेश करने के पश्चात् भी अगर आप निवेश के इच्‍छुक नहीं हैं तो आप अपने PPF अकाउंट को ब‍िना न‍िवेश के भी जारी रख सकते हैं। 15 वर्ष पूरे होने के पश्चात् इस अकाउंट में पैसे जमा करना आवश्यक नहीं होता। मैच्योरिटी के बाद PPF अकाउंट का विस्तार करने का विकल्प चुनने पर आप एक वित्तीय वर्ष में एक ही बार रुपया न‍िकाल सकते हैं। PPF अकाउंट खुलवाने के ल‍िए फॉर्म ए (Form-A) की जगह फॉर्म-1 (Form-1) जमा करना होता है। 15 वर्ष के पश्चात् PPF अकाउंट के व‍िस्‍तार के ल‍िए (जमा के साथ) मैच्‍योर‍िटी से एक वर्ष पहले फॉर्म एच की जगह फॉर्म-4 में आवेदन करना होता है। PPF अकाउंट पर लोन भी प्राप्त होता है। इसका न‍ियम यह है क‍ि आवेदन की दिनांक से 2 वर्ष पूर्व आपके अकॉउंट में ज‍ितना बैलेंस है, उसका 25 फीसदी ही आपको कर्ज म‍िल सकता है। सरल भाषा में ऐसे समझे आपने 31 मार्च 2022 को लोन के ल‍िए आवदेन क‍िया। इससे 2 वर्ष पूर्व (31 मार्च 2020) को PPF अकाउंट में 1 लाख रुपये थे तो आपको इसका 25 फीसदी यानी 25 हजार लोन म‍िल सकता है।

कन्हैयालाल की पत्नी को 1 करोड़, उमेश के परिवार को 30 लाख.., कपिल मिश्रा ने हिन्दुओं से जुटाया चंदा

उदयपुर-अमरावती की घटनाओं के विरोध में सड़कों पर उतरे हिन्दू, किया हनुमान चालीसा का पाठ

PFI की रैली में दी गई थी हिन्दुओं की हत्या की धमकी, उस केस में 31 आरोपितों को कोर्ट ने दी जमानत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -