हर दो महीने में बदले अपना टूथब्रश

हर दो महीने में बदले अपना टूथब्रश

दांतों को साफ रखने और कीटाणुओं से बचाने के लिए आप टूथब्रश का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन शायद इस बात से आप अनजान हैं, कि आपका यही ब्रश आपकेा बीमार भी कर सकता है.दांतों की सफाई के लिए आपकी जरूरत के हिसाब से सही टूथब्रश का चुनाव करना बहुत जरूरी है. आइए हम आपको बतातें है टूथब्रश से जुड़ी कुछ जरूरी बातें. 

1-सही टूथब्रश के चयन के साथ-साथ यह भी जरूरी है कि आपके ब्रश करने का तरीका कितना सही है. ब्रश करने का सही तरीका यह है कि टूथब्रश को दांतों के एनामेल यानी जोड़ पर ऊपर से नीचे और दाएं से बाएं की ओर करें. एक साथ तीन दांतों पर इसी विधि से ब्रश करें. ब्रश करने की प्रक्रिया के दौरान जीभ की सफाई भी बेहद जरूरी है. 

2-चिकित्सकों का मानना है कि हर दो महीने के अंतराल में टूथब्रश बदलना चाहिए. पुराने टूथब्रश के ब्रिसल्स सख्त हो जाते हैं जिससे दांतों की सफाई सही तरीके से नहीं हो पाती और इनसे संक्रमण की आशंका भी अधिक रहती है.

3-क्या आप अपने टूथब्रश को कंटेनर में रखते है, तो अपनी ये आदत बदल दीजिए. अगर आप टूथब्रश को बंद कर देंगे तो ब्रश ठीक से सूख नहीं पाएगा, जिससे बैक्टीरिया उसी में रह जाता है. औऱ अगर आप अपने परिवार वालों के ब्रश भी उसी में रखते हैं तो वो सभी टूथब्रश में फैल जाएंगे. इसलिए कभी भी टूथब्रश एक साथ बंद करके नहीं रखने चाहिए.  

क्या आप जानते है दही खाने के खास...