मध्यप्रदेश : उपचुनाव में इन मुद्दों पर जनता को साधने का प्रयास

मध्यप्रदेश : उपचुनाव में इन मुद्दों पर जनता को साधने का प्रयास

लॉकडाउन और कोरोना संकट के बीच मध्य प्रदेश की 24 विधानसभा सीटों के उपचुनाव में ग्वालियर-चंबल संभाग की 16 सीटों पर भाजपा 'चंबल एक्सप्रेस वे' को भुनाने की तैयारी में है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम को इस परियोजना के नए नाम 'चंबल प्रोग्रेस वे' की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) बनाने को कहा है. इस बात की संभावना भी है कि पुराने मौजूदा छह लेन हाइवे की चौड़ाई बढ़ा दी जाए. 352 किलोमीटर लंबा यह एक्सप्रेस वे तीन राज्यों- मप्र, राजस्थान व उप्र से गुजरेगा.

क्या गर्भवती महिला में प्लेसेंटा को चोट पहुंचा सकता है कोरोना?

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि चंबल क्षेत्र के विकास में चार-चांद लगाने वाले इस प्रोजेक्ट को भाजपा उपचुनाव में भुनाने की तैयारी कर चुकी है. उपचुनाव की घोषणा के पहले इस प्रोजेक्ट का भूमिपूजन करवा दिया जाएगा. विभागीय सूत्रों का कहना है कि प्रोजेक्ट के लिए सर्वेक्षण का काम शुरू करवाया जा रहा है. अधिकारियों को प्राथमिकता के आधार पर इस प्रोजेक्ट को लेने के निर्देश दिए गए हैं. यह भी कहा गया है कि भूमि अधिग्रहण कम से कम हो, इस बात का ध्यान रखा जाए. प्रोजेक्ट की डीपीआर पर तेजी से काम चल रहा है. जून अंत तक डीपीआर और अन्य औपचारिकताएं पूरी करने की कवायद चल रही है.

क्या यूपी में 10 लाख से अधिक कोरोना संक्रमित हैं ? सीएम योगी से प्रियंका का सवाल

माना जा रहा है कि परियोजना के लिए मुख्यमंत्री चौहान ने केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी की सहमति ले ली है. भूमिपूजन कार्यक्रम में गडकरी भी शामिल होंगे. कांग्रेस सरकार ने इस प्रोजेक्ट को ठंडे बस्ते में डाल दिया था. इस महापथ के दोनों ओर खास-खास जगह पर 'इंडस्टि्रयल हब' भी विकसित किए जाने की योजना है.

1 जून से ब्रिटेन में खुलेंगे स्कूल ! पीएम जॉनसन ने बताया प्लान

अमेरिकी प्रतिबंधों के बावजूद नहीं माना ईरान, वेनेज़ुएला पहुंचाए तेल

टैंकरमध्य प्रदेश उपचुनाव: 'चंबल एक्सप्रेस वे' को मुद्दा बनाएगी भाजपा ! 16 सीटों पर पड़ेगा सीधा असर