अंतरराष्ट्रीय योग दिवस: आंखों को तेज और शरीर को जवान बनता है चक्रासन योग

Jun 18 2019 06:00 PM
अंतरराष्ट्रीय योग दिवस: आंखों को तेज और शरीर को जवान बनता है चक्रासन योग

आप सभी जानते ही होंगे कि योग मन की शांति और शरीर को स्वोस्थ बनाने में बहुत अहम रोल निभाता है. ऐसे में हर साल योगा दिवस 21 जून को मनाया जाता है. ऐसे में कई लोग मानते हैं कि योग केवल शरीर को लचीला बनाने के लिए ही किया जाता है, लेकिन ऐसा नहीं है. आपको बता दें कि योग के ढेरों आसन हैं, जिनके कई फायदे हैं और योग की सहायता से आप जीवन भर जवां और स्वस्थ  बने रह सकते हैं. वहीं ऐसा भी कहा जाता है कि बढ़ती उम्र के साथ ढ़लने की बजाए तंदरुस्त ही रहें, तो लोगों को चक्रासन अपनाना चाहिए. जी दरअसल चक्रासन योग को नियमित करने से रीढ़ की हड्डी लचीली बनी रहती है और शरीर भी हमेशा जवां बना रहता है. कहते हैं चक्रासन करने से सांस के रोग भी दूर होते हैं, यह आंखों के लिए भी काफी अच्छा माना जाता है. केवल इतना ही नहीं चक्रासन सर्वाइकल और स्पोंडोलाईटिस जैसी बीमारियों से जूझ रहे मरीजों के लिए काफी फायदेमंद है. 

कैसे करें- 

कोई भी आसन करने से पहले शरीर को वॉर्मअप कर लें. 
चक्रासन के लिए पीठ के बल लेटकर घुटनों को मोड़ें. 
ध्यान रखें कि आपकी एडियां कूल्हों के पास हों. 
इसके बाद दोनों हाथों को उल्टा कर कंधों के पीछे एक-दूसरे से थोड़ी दूरी पर रखें. 
अब धीरे-धीरे अपने पेट को हवा में उठाएं और हाथ और पैरों को पास लाने का प्रयास करें. 
इससे शरीर चक्र से मिलती-जुलती शेप में आ जाता है. 
ध्यान रहे इस प्रक्रिया के खत्म करते समय शरीर को ढीला रखें. 
इस आसन को नियमित रूप से कम से कम 3-4 बार करना चाहिए.

क्या हों सावधानियां- 

जो लोग उच्च रक्तचाप, दिल के रोग या हर्निया से पीडित हैं, तो इस आसन को न करें. इसी के साथ गर्भवती महिलाएं भी इस योगासन से दूर रहें और स्पोंरडलाटिस के रोगी को भी यह आसन नहीं करना चाहिए.

आयुर्वेद को नई पहचान देने जा रहा WHO, अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर लांच करेगा एप

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस: टेक्सास में तैयारियां चरम पर, होगा कई कार्यक्रमों का आयोजन

विश्व भर में पूरे जोश के साथ आरंभ हुए योगा दिवस के कार्यक्रम, पीएम मोदी ने भी किया ट्वीट