आज के दिन जरूर सुने माँ ब्रह्मचारिणी की यह कथा

Mar 26 2020 09:20 AM
आज के दिन जरूर सुने माँ ब्रह्मचारिणी की यह कथा

आप सभी जानते ही होंगे कि नवरात्र आरम्भ हो चुका है. बीते 25 मार्च से नवरात्र का पर्व शुरू हो चुका है और यह पर्व सभी हिंदुओं के लिए मुख्य माना जाता है. यह पर्व नौ दिनो का होता है जिनमे मातारानी के भक्त उपवास रखते है और माँ के सामने अपनी कामना रखते हैं. कहते हैं इन दिनो में माँ को ख़ुश करने के लिए पूजन किया जाता है. ऐसे में आज माँ ब्रह्मचारिणी का दिन है. नवरात्र के दूसरे दिन माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं उनकी कथा जो आज के दिन जरूर सुननी चाहिए क्योंकि इस कथा को सुनने से बड़ा ही लाभ मिलता है.

माँ ब्रह्मचारिणी की कथा- माता ब्रह्मचारिणी हिमालय और मैना की पुत्री हैं. इन्होंने देवर्षि नारद जी के कहने पर भगवान शंकर की ऐसी कठोर तपस्या की जिससे प्रसन्न होकर ब्रह्मा जी ने इन्हें मनोवांछित वरदान दिया. जिसके फलस्वरूप यह देवी भगवान भोले नाथ की वामिनी अर्थात पत्‍‌नी बनी.

जो व्यक्ति अध्यात्म और आत्मिक आनंद की कामना रखते हैं उन्हें इस देवी की पूजा से सहज यह सब प्राप्त होता है. जो व्यक्ति भक्ति भाव एवं श्रद्धादुर्गा पूजा के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा करते हैं उन्हें सुख, आरोग्य की प्राप्ति होती है और प्रसन्न रहता है, उसे किसी प्रकार का भय नहीं सताता है.

आज है नवरात्र का दुसरा दिन, करे माँ ब्रह्मचारिणी का पूजन

हिन्दू नवरात्र में बंगाली भोजन और रिवाज़ में अंतर क्यों पाया जाता है ? जाने यहाँ

हिन्दू नववर्ष चैत्र नवरात्र में जरूर करे इन चीजों का सेवन , मिलेगा लाभ