'गौ विज्ञान परीक्षा' आयोजित करेगी सरकार, मंत्री बालियान बोले- इससे आमदनी कर रहे लोग

नई दिल्ली: केंद्र सरकार के राष्ट्रीय कामधेनु आयोग की तरफ से देसी गायों और इसके लाभ के बारे में छात्रों और लोगों को जागरूक करने के लिए एक राष्ट्रीय स्तर की स्वैच्छिक ऑनलाइन परीक्षा कराई जाएगी. इस परीक्षा का आयोजन 25 फरवरी को किया जाएगा. केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान ने कहा कि इस कार्यक्रम को गायों के प्रति जागरूकता अभियान के रूप में देखा जा सकता हैं.

पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन मंत्री संजीव बालियान ने कहा कि इस परीक्षा के माध्यम से लोगों को पता चलेगा कि गाय किस किस्म से हमारी संस्कृति और पूजा से जुड़ी हुई है. अगर एक आयु के बाद गाय दूध नहीं दे पाती है तो उसे बोझ नहीं मानना चाहिए क्योंकि आज गाय के गोबर और मूत्र से लोग से पैसे कमा कर रहे हैं. इस ऑनलाइन परीक्षा का नाम 'गौ विज्ञान प्रचार प्रसार परीक्षा' होगा. इससे पहले राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के अध्यक्ष वल्लभभाई कथीरिया ने मंगलवार को कहा था कि बगैर किसी शुल्क के वार्षिक तरीके से 'गौ विज्ञान परीक्षा का आयोजन किया जाएगा.

इस कामधेनु गौ विज्ञान प्रचार प्रसार परीक्षा में प्राथमिक, माध्यमिक और कॉलेज स्तर के छात्र और आम लोग निशुल्क भाग ले सकेंगे.  राष्ट्रीय कामधेनु आयोग अब गौ विज्ञान पर अध्ययन सामग्री मुहैया करवाने की तैयारी भी कर रहा है. कथीरिया का कहना है कि परीक्षा में ऑब्जेक्टिव टाइप सवाल पूछे जाएंगे और आयोग की वेबसाइट पर पाठ्यक्रम के बारे में ब्यौरा मुहैया कराया जाएगा. परीक्षा परिणामों का ऐलान तुरंत कर दिया जाएगा और सर्टिफिकेट दिए जाएंगे. साथ ही होनहार उम्मीदवारों को इनाम दिया जाएगा.

गांगुली के एड पर फार्च्यून ने दी सफाई, कहा- हमारे ब्रांड एम्बेसडर बने रहेंगे 'दादा'

राज ठाकरे और MNS नेताओं के खिलाफ केस वापस लेगी अमेज़न, कोर्ट में दी जगह

फेस्टिव डिमांड पर टाइटन की ज्वैलरी की बिक्री में हुई बढ़ोतरी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -