आयुर्वेदिक डॉक्टर के लिए केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, अब कर सकेंगे सर्जरी

Nov 22 2020 10:02 AM
आयुर्वेदिक डॉक्टर के लिए केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, अब कर सकेंगे सर्जरी

आयुर्वेदिक चिकित्सकों को लेकर केंद्र सरकार ने बड़ा निर्णय लिया है। आयुर्वेद की डिग्री प्राप्त चिकित्सक अब जनरल तथा ऑर्थोपेडिक सर्जरी के साथ-साथ आंख, कान तथा गले की सर्जरी भी कर सकेंगे। भारतीय चिकित्सा केंद्रीय परिषद के अनुसार, सरकार से हरी झंडी मिलने के पश्चात् पीजी के विद्यार्थियों को सर्जरी के बारे में गहन जानकारी दी जाएगी।

आपको बता दें कि आयुर्वेद के विद्यार्थियों को अभी सर्जरी के बारे में पढ़ाया तो जाता था, किन्तु वो सर्जरी कर सकते हैं या नहीं, इसको लेकर कोई स्पष्ट दिशा-निर्देश नहीं थे। सरकार की तरफ से जारी नोटिफिकेशन के पश्चात् अब आयुर्वेद के चिकित्सक भी सर्जरी कर सकेंगे। सरकार के नोटिफिकेशन के अनुसार, आयुर्वेद के पीजी के विद्यार्थियों को आंख, नाक, कान, गले के साथ ही जनरल सर्जरी के लिए खास तौर पर प्रशिक्षित किया जाएगा।

सरकार की तरफ से जारी नोटिफिकेशन के अनुसार, इन विद्यार्थियों को ग्लुकोमा, मोतियाबिंद हटाने, स्तन की गांठों, अल्सर तथा पेट से बाहरी तत्वों की निकासी जैसा कई सर्जरी करने का अधिकार होगा। केंद्र सरकार के आयुर्वेद के पूर्व सलाहकार डॉ। एस।के। शर्मा ने सरकार के इस निर्णय पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए मील का पत्थर बताया है। उन्होंने कहा कि भारत इस वक़्त सर्जन की कमी झेल रहा है। सरकार के इस निर्णय से देश में सर्जन की कमी को दूर किया जा सकेगा। इसके साथ-साथ दूरदराज क्षेत्रों के रोगियों को शहर भागने की आवश्यकता नहीं होगी तथा उन्हें अपने इलाके में ही उच्च स्तर का उपचार प्राप्त हो सकेगा।

असम में वर्चुअल कोर्ट और ई-चालान परियोजना हुई शुरू

LBSNAA के 57 अधिकारी हुए कोरोना पॉजिटिव

IMD का अनुमान अगले 48 घंटों में मौसम ले सकता है करवट