सेंट्रल बोर्ड रेलवे कर्मचारियों ने खोला मोर्चा, यह है पूरा मामला

जबलपुर से कार्तिक गुप्ता की रिपोर्ट

जबलपुर।  पश्चिम मध्य रेलवे पश्चिम के पीसीसीएम दीप चंद अहिरवार के तुगलकी फरमान के खिलाफ सेंट्रल बोर्ड रेलवे कर्मचारियों ने आज मोर्चा खोल दिया। मिनिस्ट्रियल पदों को रेडिसटीब्यूट करने के खिलाफ कर्मचारियों ने आज जीएम ऑफीस के सामने आंदोलन किया। 

दरअसल इन कर्मचारियों का गुस्सा पश्चिम मध्य रेल मुख्यालय में पीसीसीएम दीप चंद अहिरवार द्वारा कार्यालय अधीक्षक के पदों को समाप्त कर उनके बदले में चीफ कमर्शियल इंस्पेक्टर का पद बनाए जाने को लेकर विरोध है। रेलवे के कर्मचारियों का कहना है कि पीसीसीएम में नियम विरुद्ध जाकर यह फैसला लिया है जो कहीं से भी सही नहीं है। 

रेलवे कर्मचारियों ने चेतावनी दी है कि, यदि पीसीसीएम ने अपना तानाशाही फरमान वापस नहीं लिया तो आगे आर पार की लड़ाई की जाएगी। यही नहीं आंदोलनकारियों के आंदोलन को कुचलने के लिए पीसीसी दीपचंद अहिरवार ने प्रदर्शन स्थल की बिजली कटवा दी और तो और प्रदर्शनकारियों का आरोप है कि पीसीसीएम दीपचंद अहिरवार ने आरपीएफ के जवानों को भिजवा कर जबरदस्ती उन्हें  प्रदर्शन स्थल से हटाने की कोशिश भी की।

गांव में आया भारी भरकम मगरमच्छ, रेस्क्यू कर अभ्यारण में छोड़ा

शराब ठेकेदारों को नहीं लगाने पड़ेंगे जिला कार्यालय के चक्कर, पूरी प्रक्रिया होगी अब डिजिटल

उपभोक्ता शुल्क योजना में उपभोक्ता शुल्क संग्रहण करने की स्वीकृति हुई प्रदान

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -