टास्क फ़ोर्स की चेतावनी से सहमत नहीं केंद्र, कहा- 'महाराष्ट्र में नहीं आएगी कोरोना की तीसरी लहर'

मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना की तीसरी लहर आने का खतरा बना हुआ है लेकिन इस बीच केंद्र का कहना है- महाराष्ट्र में कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना नहीं है। जी हाँ, यह दावा केंद्र सरकार ने किया है। कुछ समय पहले ही महाराष्ट्र में कोरोना टास्क फोर्स के सदस्य डॉ. शशांक जोशी ने कोरोना की तीसरी लहर आने की संभावना जताई थी। उनके इसी बयान पर राष्ट्रीय टीकाकरण तकनीकी सलाहकार समिति (NTAGI) के सदस्यों ने आपत्ति जताई है। जी दरसल हाल ही में डॉ। शशांक जोशी ने एक बयान में कहा था कि, ''ब्रिटेन में दूसरी लहर जाने के चार हफ्तों बाद तीसरी लहर आई थी।

इसी तरह महाराष्ट्र में भी अगर लोगों ने कोरोना से जुड़े नियमों का सही तरह से पालन नहीं किया और सही तरह से सावधानियां नहीं बरतीं, तो ऐसी स्थिति पैदा हो सकती है।'' जी दरअसल महाराष्ट्र सहित देश भर में कोरोना के नए मामलों में तेजी से कमी आती हुई दिखाई दे रही है। इस बीच वैक्सीनेशन भी तेज गति से पूरा हो रहा है। लेकिन अब डॉ। जोशी के बयान के बाद लोगों के मन में डर पैदा हो चुका है। डॉ। जोशी पर मना कर दिया है। उन्होंने एक बयान में कहा कि ऐसे मामलों में केंद्र सरकार सही समय पर सही हस्तक्षेप करेगी। NTAGI के तकनीकी विशेषज्ञों का कहना है कि, ''अगले दो से चार हफ्तों में कोरोना की तीसरी लहर आने की कोई संभावना दूर-दूर तक नहीं है। डॉ। शशांक जोशी ने बिना किसी साइंटिफिक रिसर्च के यह बयान दे दिया है। देश की 50 से 60 प्रतिशत जनता में सामूहिक प्रतिकार शक्ति की सुरक्षा हासिल हो गई है। इसलिए अगले छह महीनों में भी तीसरी लहर की कोई संभावना नहीं है। इससे पहले सीरो सर्वेक्षण में भी यह बात स्पष्ट तौर से कही गई थी।''

आप सभी को हम यह भी बता दें कि एम्स द्वारा किए गए नए रिसर्च में खुलासा हुआ है कि, ''कोरोना वायरस के वर्तमान वेरियेंट की वजह से तीसरी लहर का संक्रमण अगर फैला भी तो 2 साल या उससे अधिक उम्र के बच्चों पर उसका असर नहीं होगा।'' इसके अलावा एम्स द्वारा किए गए नए रिसर्च में खुलासा हुआ है कि 15 मार्च से 10 जून के बीच कोरोना वायरस व मरीजों के विषय में दिल्ली, भुवनेश्वर, अगरतला जैसे ठिकानों से जानकारियां इकट्ठी की गईं थीं। देश के 30 प्रतिशत लोगों को अगर वैक्सीन का एक डोज भी मिला तो तीसरी लहर की संभावना नहीं है।

Maharashtra: अगले 2-3 हफ्ते में दस्तक दे सकती है कोरोना की तीसरी लहर

कंगना को दीदी बोलना KRK को पड़ा भारी, सोशल मीडिया पर लोगों ने किया ट्रोल

बीजेपी और शिवसेना की झड़प के बाद बोले संजय राउत- 'हम प्रमाणित गुंडे हैं'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -